Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    निर्वाचन गतिविधियों के लिए अधिकारियों को दिया गया प्रशिक्षण

    निर्वाचन गतिविधियों के लिए अधिकारियों को दिया गया प्रशिक्षण

    शाहजहांपुर. बरेली-मुरादाबाद खण्ड शिक्षा निर्वाचन-2020 के तहत गांधी भवन प्रेक्षागृह में जोनल मजिस्ट्रेट, सेक्टर मजिस्ट्रेट, पीठासीन अधिकारी आदि का प्रशिक्षण जिला निर्वाचन अधिकारी/जिला मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता में कराया गया। प्रशिक्षण में जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया है कि शिक्षक निर्वाचन की दशा में मतदाता की बायें हाथ की बीच की अंगुली (मध्यमा) का यह देखने के लिये निरीक्षण करेगा कि उस पर पहले से कोई अमिट स्याही का चिन्ह तो नही हैं उसके बाद वह मतदान अधिकारी सम्बन्धित अंगुली के नाखून के बीच संधि के ऊपर फैल जाये और उस पर स्पष्ट चिन्ह बन जाये। मतदान प्रणाली के सम्बन्ध में बताया है कि निर्वाचन अपना मत देते हुये अपने मतपत्र पर उस अभ्यर्थी के नाम के सामने वाले रिक्त स्थान में, जिसके लिये वह प्रथमतः मत देना चाहता है.





    अंक 1 अंकित करेगा और इसके अतिरिक्त अपने मतपत्र पर अन्य अभ्यर्थीयों के नामों के सामने वाले रिक्त स्थान में अपने अधिमान (च्मतमितमबम) के अनुसार अंक 2 या अंक 2,3 और 4 और इसी भंति आगे भी अंक अंकित करेगा। उपरिवर्णित अंक भारतीय भाषा में प्रयुक्त रूप  में अंकित किये जा सकेगें। उन्होंने बताया है कि मतपत्र पर अधिमान उन्हे दी गयी सामग्री से ही अभिलिखित किया जाना चाहिए अन्यथा उक्त नियम के अनुसार मतपत्र रदद् हो जायेगी। इस प्रयोजन हेतु आपको बैगनी रंग का स्कैच पेन दिया जायेगा। अपना मत अभिलिखित करने के बाद निर्वाचन अपने  मतपत्र को इस प्रकार मोड़ लेगा कि उसका मत छिप जाय किन्तु सुभिन्नक चिन्ह (क्पेजपदहनपेीपदह डंता) दिखाई पड़ता रहें। इसके पश्चात वह मतदान कक्ष के बाहर आ जायेगा। मतदान कक्ष के बाहर आ जाने पर मतदाता पीठासीन अधिकारी को मतपत्र पर लगा सुभिन्नक चिन्ह दिखायेगा और इसके बाद वह मुड़ा हुआ मतपत्र मतपेटी में डाल देगा और मतदान केन्द्र से बाहर जायेगा।

    उन्होंने बताया है कि चैलेंज वोट हेतु यदि किसी मतदाता जिसका निर्वाचक नामावली में दर्ज है उसकी पहचान के सम्बन्ध में किसी अभ्यर्थी या उसके निर्वाचन अभिकर्ताओं द्वारा संदेह करेते हुये चैलेंज किया जाता है तो चैलेंज करने वाले व्यक्ति द्वारा 02 रूपये नकद जमा करने पर ही उसके दावे पर विचार किया जा सकता है। ऐसे मतो की सूचना प्रारूप-14 पर पूरित की जायेगी। उन्होंने टेण्डर वोट के सम्बन्ध में बताया है कि कोई व्यक्ति अपनी बावत यह दावा करे कि वह विश्ष्टि मतदाता है और ऐसे मतदाता के रूप  में दूसरे व्यक्ति द्वारा पहले से ही मत दिये जाने के पश्चात मतपत्र के लिये आवेदन करे। ऐसे वोट को टेण्डर वोट कहते है। ऐसे मतदाता की पहचान साबित हो जाने की स्थिति में उसको मतदान करने दिया जायेगा और ऐसे निविदत्त मतो की प्रारूप-15 में सूचना पूरित की जायेगी।

    इन्द्र विक्रम सिंह ने बताया है कि 01 दिसम्बर, 2020 को होने वाले मतदान में प्रतिरूपण को रोकने की दृष्टि से मतदान के समय ऐसे मतदाता फोटो पहचान पत्र जारी किये गये हैं, को अपनी पहचान सिद्ध करने के लिए मत देने से पूर्व अपना मतदाता फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत करना होगा। तथापि वे निर्वाचन जो अपना निर्वाचन फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत नही कर पाते हैं, उन्हे निम्नलिखित वैकल्पिक दस्तावेजों में से कोई दस्तावेज मतदान स्टाफ को प्रस्तुत करना होगा। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि बरेली-मुरादाबाद खण्ड षिक्षा निर्वाचन-2020 का मतदान दिनांक 01.12.2020 को होना है। उन्होंने बताया है कि उक्त मतदान हेतु दिनांक 30 नवम्बर 2020 को मतदान कराने हेतु पोलिंग बूथ के लिए निर्चाचन कार्यालय से फोर्स के साथ पार्टियां रवाना की जाएंगी। बरेली-मुरादाबाद खण्ड षिक्षा निर्वाचन हेतु 10 सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं 06 जोनल मजिस्ट्रेट तथा 20 कर्मिकों की टीमें बनाई गयी है। इसके साथ ही उपरोक्त चुनाव हेतु केन्द्र सरकार द्वारा 10 माइक्रो आॅब्जर्वर भी लगाए गये है।

    इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक एस आनन्द, अपर जिलाधिकारी प्रशासन राम सेवक द्विवेदी, जिला विकास अधिकारी सतीष मिश्रा, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राकेश कुमार, उप जिलाधिकारी सदर सुरेन्द्र सिंह, उपजिलाधिकारी जलालाबाद सौरभ भट्ट, उपजिलाधिकारी तिलहर  वेदपाल सिंह चैहान आदि अधिकारी उपस्थित रहें। 

    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.