Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या: करीब 492 साल बाद श्रीराम जन्मभूमि पर साकार होगा भव्य दीपोत्सव मनाने का सपना

    अयोध्या: करीब 492 साल बाद श्रीराम जन्मभूमि पर साकार होगा भव्य दीपोत्सव मनाने का सपना

     अयोध्या में श्री राम मंदिर निर्माण वाली दिवाली होगी

    अयोध्या. मर्यादा पुरुषोत्तम  प्रभु श्रीराम की धर्म नगरी अयोध्या में इस बार का दीपोत्सव और दिवाली ऐतिहासिक होगी. करीब पांच सदी बाद श्रीराम जन्म भूमि पर मन्दिर निर्माण शुरू होने के  साथ पहली बार दीपोत्सव होने जा रहा है, जो  किसी सपने से कम नहीं है. करीब 492 साल बाद यह पहला मौका होगा, जब श्री रामजन्म भूमि पर  'खुशियों' के दीप जलेंगे. इस बार की दिवाली राम मंदिर वाली दिवाली होगी ऐसा लग रहा है कि 500 वर्ष बाद अवध में श्रीराम आ रहे हैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दीपोत्सव की कमान स्वयं संभाले हुए हैं और  दीपोत्सव' को वैश्विक उत्सव बनाने में वह कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. हर व्यस्था पर उनकी नजर है. कहां, कब क्या होना है इसको भी वे स्वयं देख रहे हैं जिले के आला अधिकारियों के अलावा प्रदेश के अधिकारी भी लगातार अयोध्या आकर इस स्थिति का जायजा ले रहे हैं व्यवस्था को देख रहे हैं.

     जैसा कि 11 से 13 नवम्बर तक आयोजित होने वाले दीपोत्सव की एक-एक तैयारी पर सीएम की नजर है. इस बार योगी सरकार का अयोध्या में यह चौथा दीपोत्सव है. अन्य दीपोत्सव की तरह इसमें भी दीपकों के मामले में रिकॉर्ड बनाने की तैयारी है.  बताया जाता है कि करीब पांच शताब्दी पूर्व 1527 में मुगल सूबेदार मीरबांकी के अयोध्या जन्मभूमि पर कब्जा किया था. उसके बाद से अब देश ही नहीं, दुनिया के करोड़ों रामभक्तों का सपना साकार हुआ है न्यायालय का चक्कर काटते हुए हिंदू मुसलमान के विवाद को झेलते हुए  अंतरराष्ट्रीय राजनीति को  नजरअंदाज करते हुए लंबे अंतराल के बाद माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेश से अयोध्या में श्री राम मंदिर बनने का सपना साकार हुआ है निर्माण काम चल रहा है न्यायालय का फैसला आने के बाद मंदिर निर्माण शुरू होने के बाद यह पहला दीपोत्सव है जिस को ऐतिहासिक बनाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं श्री राम जन्मभूमि पर मन्दिर निर्माण का सपना पूरा हो रहा है. दीपोत्सव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के द्वारा दीपोत्सव करने के आसार हैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जन्म भूमि पर दीपोत्सव में दीप प्रज्वलित करेंगे आरती करेंगे सरजू मां की आरती करेंगे राम लक्ष्मण सीता हेलीकॉप्टर से अयोध्या में उतरेंगे जिनका स्वागत मुख्यमंत्री स्वयं करेंगे.

    इस दीपोत्सव को लेकर लोगों का उत्साह चरम पर है. हालांकि कोरोना के नाते इस अवसर पर अयोध्या में सीमित लोग ही जाएंगे, पर वर्चुअल रूप से हर कोई घर बैठे अयोध्या के भव्य और दिव्य दीपोत्सव का आनंद ले सकता है. मंदिर आंदोलन में गोरक्षपीठ की महत्वपूर्ण भूमिका रही है.  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या में अयोध्या के विकास के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं क्योंकि अयोध्या से योगी आदित्यनाथ का बड़ा ही लगाओ है नई अयोध्या को बसाने अंतरराष्ट्रीय  उड़ान से जोड़ने अयोध्या को विश्व के मानचित्र पर स्थापित करने के लिए लगातार प्रयासरत हैं पंचकोशी 14 कोसी 84 कोसी परिक्रमा मार्ग को भी सुदृढ़ करने पर कार्य कर रहे हैं अयोध्या को  प्रयाग राज चित्रकूट से भी जोड़ रहे हैं ऐसे में अयोध्या की दीपावली ऐतिहासिक होगी!

    देव बक्श बर्मा, अयोध्या

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.