Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या: दीपोत्सव की तैयारियां पूरी, मुख्य समारोह 13 नवंबर को मुख्यमंत्री राम दरबार में करेंगे दीप प्रज्ज्वलित

    अयोध्या: दीपोत्सव की तैयारियां पूरी, मुख्य समारोह 13 नवंबर को  मुख्यमंत्री राम दरबार में करेंगे दीप प्रज्ज्वलित
    दीपोत्सव में 29 हजार लीटर तेल से जगमग होगी रामनगरी
    अयोध्या। अयोध्या रामनगरी में दीपोत्सव के चौथे संस्करण को भव्यतम रूप देने की तैयारी अंतिम चरण में है। इस बार राम की पैड़ी के 24 घाटों पर  साढे पांच लाख दीयों को प्रज्वलित किया जाएगा, जिसमें से साढ़े पांच लाख जलते दीयों का रिकार्ड बनाने का लक्ष्य है। इसके लिए 29 हजार लीटर सरसों का तेल व साढ़े सात लाख रुई की बाती की आवश्यकता है। प्रत्येक दीये में 45 मिलीलीटर तेल भरा जाएगा। दीयों को प्रज्जवलित करने के लिए 20 किलोग्राम कपूर तथा 30 गत्ता मोमबत्ती का प्रबंध हो गया है। घाटों पर दीयों को प्रज्वलित करने के लिए पांच हजार स्टिक लगेंगी। इसी में मोमबत्ती अटैच कर प्रत्येक दीये को स्वयंसेवक प्रज्वलित करेंगे। आठ हजार स्वयंसवेक तैनात होंगे। अवध विश्वविद्यालय पांच लाख दीयों व एक हजार सात सौ टिन सरसों के तेल का प्रबंध कर चुका है। एक लाख दीये व अन्य सामग्री की सप्लाई पयर्टन विभाग कर रहा है।
     
       स्वयंसेवक एवं समन्वयकों के निर्देशन में दीप सभी घाटों पर बिछाए जाएंगे। 13 नवंबर को सुबह 10 बजे दीयों में तेल एवं बाती डालने का कार्य शुरू होगा, शाम ढलते ही दीयों को प्रज्वलित कर दिया जाएगा। एक स्वयंसेवक को 80 दीये जलाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।  आठ हजार स्वयंसेवक इस कार्य में लगे हैं।
    कोविड प्रोटोकॉल के अनुपालन के लिए व्यापक इंतजाम हैं। चिकित्सकीय टीम राम की पैड़ी पर तैनात होगी।  दीपोत्सव में सहभागिता के लिए पदाधिकारियों एवं स्वयंसेवकों को पहचानपत्र निर्गत कर दिये गये हैं। बिना पहचानपत्र किसी को प्रवेश नहीं मिलेगा। सभी को मास्क लगाने का निर्देश दिया गया है।

    देव बक्श वर्मा

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.