Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या: अयोध्या कड़ी सुरक्षा के बीच ड्रोन की निगरानी में होगा दीपोत्सव, रामनगरी में लगे 100 बैरियर

    अयोध्या: अयोध्या कड़ी सुरक्षा के बीच ड्रोन की निगरानी में होगा दीपोत्सव, रामनगरी में लगे 100 बैरियर
    अयोध्या। रामनगरी में दीपोत्सव का आगाज हो गया है। इस बार कोरोना को देखते हुए दीपोत्सव में बाहरी लोगों को शामिल होने की अनुमति प्रदान नहीं की गई है। आयोजन स्थल पर भी वही लोग प्रवेश पा सकेंगे, जिन्हें प्रशासन की ओर से अनुमति प्रदान की गई है। तीन दिवसीय आयोजन को लेकर सुरक्षा व निगरानी के कड़े इंतजाम किए गए हैं। दीपोत्सव को देखते हुए अयोध्या  में बाहरी वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित हो जाएगा।
    बड़ी संख्या में पुलिस व पैरामिलिट्री फोर्स के अतिरिक्त ड्रोन कैमरे लगाये गये हैं। रामनगरी में भीड़ नियंत्रण के लिए 100 बैरियर लगाए गए हैं, जिसमें 35 मुख्य मार्ग और 21 बैरियर राम की पैड़ी पर लगाए गए हैं। शेष बैरियर अन्य प्रमुख मंदिरों व संवेदनशील स्थलों पर हैं। प्रतिबंध 13 नवंबर तक रहेंगे।  राम की पैड़ी पर सुरक्षा का पूर्वाभ्यास किया गया है। ड्रोन कैमरे की मदद से पैड़ी के चप्पे-चप्पे की पड़ताल की गई। सुरक्षा कर्मियों को ड्रोन के प्रयोग विधि की जानकारी दी गई है। राम की पैड़ी के अतिरिक्त बंधा तिराहा व भीड़भाड़ वाले स्थानों ड्रोन से नजर रखी जाएगी। आतंकी खतरे को लेकर एटीएस कमांडो का दस्ता भी तैनात रहेगा।
    अयोध्या की ओर आने वाले वाहनों के अतिरिक्त होटल, ढाबे, गेस्ट हाउस की निरंतर चेकिग का निर्देश डीआइजी ने दिया है। निगरानी के साथ ही भीड़ का अयोध्या के ओर आगमन रोकने के लिए पड़ोसी जिलों की पुलिस से भी समन्वय बना कर कार्य किया जा रहा है। सुरक्षा व निगरानी की व्यवस्थाएं चुस्त रहें, इसके लिए पुलिस और जिला प्रशासन की समन्वय बैठक नियमित होगी। पुराने सरयू पुल से भी सिर्फ अयोध्यावासियों के वाहन ही रामनगरी की ओर आ सकेंगे। डीआईजी ने कहाकि रामनगरी में सिर्फ स्थानीय लोगों को ही प्रवेश दिया जाएगा। रामनगरी में प्रवेश से पूर्व उनका पहचान पत्र देखा जाएगा।
    देव बक्श वर्मा, अयोध्या

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.