Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सांस्कृतिक कार्यक्रम में उभरती दिखी ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभाएं

    सांस्कृतिक कार्यक्रम में उभरती दिखी ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभाएं
    कल्याण व प्रादेशिक विकास दल विभाग की ओर से हुई बालक/बालिका प्रतियोगिता
    ग्रामीण क्षेत्र में छिपे कलाकारों को निखारने के लिए होनी चाहिए ऐसी प्रतियोगिता: डीएम
    बलिया। युवा कल्याण व प्रादेशिक विकास दल विभाग की ओर से महावीर घाट स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर गुरुवार को जनपद स्तरीय बालक/बालिका सांस्कृतिक प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। 
    इसमें प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पाए प्रतिभागियों को जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही ने पुरस्कृत कर उनका उत्साहवर्धन किया। पुरस्कृत करने के बाद सबको प्रोत्साहित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रतिभाग करने का अपना अलग महत्व होता है। स्थल चयन बहुत ही सराहनीय सोच रही। यह आनंद व उत्साह बना रहे। युवाओं के हाथ में भविष्य है। सही सोच व संस्कार के साथ भविष्य को उज्ज्वल बनाएं।
    इससे पहले प्रतियोगिता का उद्घाटन मुख्य विकास अधिकारी विपिन जैन ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। अपने सम्बोधन में सीडीओ ने कहा कि यह प्रतियोगिता शहर व ग्रामीण क्षेत्र में छिपे कलाकारों को निखारने के लिए युवा कल्याण व पीआरडी विभाग द्वारा कराई गई। 
    प्रतियोगिता का यह भी उद्देश्य है कि जो कलाकर राज्य व राष्ट्रीय स्तर पर नहीं जा सके, वे जनपद स्तर पर पहचान स्थापित कर ऊंचाइयों पर जाएं। प्रतियोगिता का मुख्य विषय गीत, नृत्य व नाटक रहा, जिसमें 13 से 35 वर्ष के प्रतिभागियों ने भाग लिया। इसमें प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पाए प्रतिभागियों को पुरस्कृत कर उनका उत्साहवर्धन किया गया।
    इसके अलावा सभी प्रतिभागियों को युवा कल्याण व प्रादेशिक विकास दल विभाग की ओर से प्रमाण-पत्र दिया गया। निर्णायक मंडल में भोजपुरी लोकगीत गायक कन्हैया हरपुरी, समाजसेविका प्रीति पांडेय, फ़िल्म निर्देशक व अभिनेता आयुष साहनी थे। गायत्री शक्तिपीठ के बिजेंद्र चौबे, जिला युवा कल्याण अधिकारी महेंद्र सिंह कुशवाहा व उनके समस्य बीओ, संगीत अध्यापक अरविंद उपाध्याय, तबला पर आदित्य पाठक, बेन्जू वादक लियाकत अली, हीरालाल, यशवंत, उत्सव, आयुष व अन्य लोग थे। संचालन रामभरोसे ने किया।

    नृत्य में अनन्या, गायन में हरी हलचल तथा एकांकी में अखिलेश रहे अब्बल..

    प्रतियोगिता में लोकगीत गायन में हरी हलचल प्रथम, आर्तिका पाठक द्वितीय व राजीव राज तीसरे स्थान पर रहे। नृत्य एकल में प्रथम अनन्या पांडेय, द्वितीय हिमांशु यादव व तृतीय तृप्ति पांडेय रही। वहीं सामूहिक नृत्य में रिशु एवं सहयोगी पहले स्थान पर है जबकि द्वितीय पर पूनम पांडे व अरविंद तथा तीसरे स्थान पर पूनम पांडे व हिमांशु रहे। अंकुश वर्मा को बांसुरी वादन के लिए पुरस्कृत किया गया। नाटक-एकांकी में अखिलेश यादव की।कलाकारी को सबने सराहा।

    आसिफ हुसैन जैदी

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.