Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पारस कम्पनी का सामान ले जा रहे डीसीएम-ड्राइवर की दुर्घटना में मौत

    पारस कंपनी के ड्राइवर की हादसे में मौत, सहायता देने के नाम पर कंपनी ने मुंह फेरा

    (कंपनी गेट पर घर वालों ने शव रखकर दिया धरना, कंपनी की संवेदनहीनता बरकरार)

    संडीला। इंडस्ट्रियल एरिया में स्थापित कम्पनी का सामान लखनऊ ले जा रहा डीसीएम रात करीब 2 बजे रहीमाबाद थाना अंतर्गत भतोइया के पास एक ट्रैक्टर ट्रॉली से लड़कर दुर्घटनाग्रस्त हो गई। जिसमें एक ड्राइवर की मौके पर मौत हो गई। जबकि दो अन्य लोग बाल-बाल बच गए।

    मामला थाना संडीला अंतर्गत मुरारनगर का है, जहां का निवासी संजय सैनी उम्र 35 पुत्र स्वर्गीय रामदुलारे पिछले 5 सालों से पारस कम्पनी में ड्राइवर के रूप में काम करता था। रात करीब 2 बजे पारस कम्पनी का सामान लखनऊ एक डीसीएम से ले जा रहा था कि अचानक अनियंत्रित एक ट्रैक्टर ट्रॉली से डीसीएम टकराकर बुरी तरह दुर्घटनाग्रस्त हो गई। जिससे ड्राइवर संजय की मौके पर ही मौत हो साथ में अन्य दो व्यक्ति बाल बाल बच गए। 

    रहीमाबाद में मुकदमा पंजीकृत कर पोस्टमार्टम लखनऊ होने के बाद परिजनों ने कम्पनी को सूचित किया। मगर किसी ने कोई ध्यान नहीं दिया। इस पर परिजनों ने शव को पारस कम्पनी के गेट पर रखकर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। पारस कम्पनी के जिम्मेदारों ने मृतक के परिजनों से खबर लिखे जाने तक कोई आश्वासन या बातचीत नहीं की बल्कि कम्पनी का गेट अंदर से बन्द कर सभी को भगाने का प्रयास किया। मृतक की पत्नी सरिता ने बताया कि पिछले 5 सालों में कम्पनी में काम कर रहे थे।

    अब इनकी मौत पर ना तो कोई कम्पनी का कर्मचारी आया और ना ही किसी जिम्मेदार ने संज्ञान लिया। दो छोटे-छोटे बच्चों के साथ अब हम सब कैसे जिएंगे। भारतीय किसान यूनियन अवध राजु गुट के जिला अध्यक्ष मो. कदीर पहलवान ने अपने सभी पदाधिकारियों के साथ पहुंचकर पीडित को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया।

    प्रमोद कश्यप/महेंद्र सिंह

    आईएनए न्यूज़ एजेंसी

             संडीला

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.