Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या: राम नगरी अयोध्या मे सरयू के किनारे अपना आशियाना बनाने का सपना होगा साकार

    अयोध्या: राम नगरी  अयोध्या मे सरयू के किनारे अपना आशियाना  बनाने का सपना होगा साकार 

    अयोध्या। मुस्कुराइए की आपका आशियाना मर्यादा  पुरुषोत्तम  श्री राम की धर्म नगरी अयोध्या  में वह भी सरयू नदी के किनारे  होगा।  कितना सौभाग्य की बात है। आपका आशियाना अयोध्या में हो अगर यह आपका सपना है तो इसके लिए अयोध्या विकास प्राधिकरण और आवास विकास परिषद मिलकर एक योजना लाने जा रहे हैं। जो सरयू किनारे आपको अपना घर मिले इसके लिए लगभग 700 एकड़ भूमि में नई अयोध्या सिटी बसाने का प्रोजेक्ट तैयार किया जा रहा है। अगर लोगों ने इस प्रोजेक्ट में रुचि दिखाई तो सरयू किनारे 1100 एकड़ भूमि में नई सिटी तैयार की जाएगी। नई अयोध्या मे पर्यटन विकास के लिए हर राज्यों का अपना भवन होगा, मठ मंदिरों के लिए अलग से जमीन होगी, पांच और तीन सितारा होटल भी खुलेंगे. बेहतर हॉस्पिटल, स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी, चौड़ी सड़कें, सभी तरह की अत्याधुनिक सुविधाएं होगी।

    सुप्रीम कोर्ट से अयोध्या विवाद के फैसले  के बाद राम  नगरी में जमीन की मांग बहुत तेजी से बढ़ी है। देश के विभिन्न राज्यों से लोग अयोध्या में बसना चाहते हैं। बिजनेसमेन की निगाहे अयोध्या की तरफ जम गयी।, होटल , स्कूल -कॉलेज और विश्वविद्यालय खोलना चाहते हैं।अपना व्यापार  फैलाना चाह रहे है।उनके भी सपने साकार होगे । अयोध्या में जिस जमीन का रेट 800 रुपये स्क्वायर फीट था वही आज  बढ़कर पाच हजार रुपये स्क्वायर फीट हो गया है। इस डिमांड को देखते हुए अयोध्या विकास प्राधिकरण ने आवास विकास परिषद के साथ एक नया शहर बसाने के प्रोजेक्ट पर काम कर रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 'नव्य अयोध्या' प्रोजेक्ट के लिए उत्साहित हैं। . मुख्यमंत्री चाहते हैं कि अयोध्या का पर्यटन विकास हो। इसके लिए 600 से 700 एकड़ भूमि में सरयु के किनारे माझा बरेटा और शाहनवाजपुर की तरफ नई अयोध्या सिटी बसाने का प्रोजेक्ट तैयार किया है। इसमें आवासीय प्लॉट , होटलों के लिए तथा अन्य  उपयोग की भूमि उपलब्ध होगी।  नई अयोध्या सिटी

    मठ-मंदिरों को भी जमीनें दी जाएंगी।  बेहतर अस्पताल, उच्च शिक्षा के लिए संस्थान भी होंगे। रोजगार के साधन भी उपलब्ध होंगे. अयोध्या में नई टाउनशिप डिवेलप करने के लिए सर्वे का काम भी पूरा हो चुका है. गाटा संख्या को लेकर किसानों को चिन्हित करके  राजस्व विभाग की बैठक हो चुकी है. आवास विकास परिषद बोर्ड की बैठक में  प्रस्ताव  पास होते ही  कार्यवाही शुरू हो जाएगी।जिसके चलते अयोध्या  मे सरयू नदी के किनारे आवास व्यवसाय  शिक्षा  रोजगार  होटल आदि के सपने साकार हो जायेगे।

      देव बक्श वर्मा,  अयोध्या

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.