Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    चर्चित ईओ मणि मंजरी राय आत्महत्या या हत्या केस, चेयरमैन किया सर्मपण, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के आदेश

    चर्चित ईओ मणि मंजरी राय आत्महत्या या हत्या केस, चेयरमैन किया सर्मपण, 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के आदेश

    बलिया। जनपद के नगर पंचायत मनियर की अधिशासी अधिकारी रही मणिमंजारी राय कथित आत्महत्या कांड के मुख्य आरोपी नगर पंचायत चेयरमैन भीम गुप्ता ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट रमेश कुशवाहा की अदालत में समर्पण करने के पश्चात उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के आदेश दिए हैं। इसके पूर्व 27 अक्टूबर को ऑपरेटर अखिलेश को पुलिस ने कथित रूप से समर्पण के दौरान गिरफ्तारी दिखा कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। उल्लेखनीय है कि 6 जुलाई को संदिग्ध परिस्थितियों में अपने फलैट में फांसी के फंदे से लटकी हुई इ ओ मणि मंजरी राय का शव मिलने के बाद पुलिस ने मणि मंजरी राय के भाई विजय की तहरीर पर चेयरमैन, ऑपरेटर और टैक्स क्लर्क और ईओ सिकन्दर पुर संजय राव,चालक सहित पांच लोगों को आरोपी बनाया था।

    इस दौरान न्याय पाने की आस में सभी आरोपी पुलिस पकड़ से बाहर रहकर दर-दर भटक रहे थे। अंत में चेयरमैन ने बुधवार को अपरान्ह न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष समर्पण  किया, जहां से  उनके आवेदन को निरस्त करते हुआ उन्हें  14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। इसके पूर्व कोतवाली पुलिस द्वारा चालक चंदन वर्मा को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है और नगर पंचायत सिकंदरपुर के ईओ संजय राव अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं । जबकि टैक्स लिपिक विनोद सिंह उच्च न्यायालय से पहले ही जमानत पर हैं। चेयरमैन  की ओर डा०संजय गुप्ता एड० और सरकार की ओर से मुकदमे की पैरवी अभियोजन अधिकारी ने किया।

    आसिफ हुसैन जैदी, बलिया

    आईएनए न्यूज़ एजेंसी



    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.