Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जरूरत पड़ने पर पुलिस की मदद लें या डायल करें 1090 या 112

    जरूरत पड़ने पर पुलिस की मदद लें या डायल करें 1090 या 112

    शाहजहांपुर। गांधी फै़ज़-ए-आम महाविद्यालयो में अध्ययनरत छात्राओं को ऑफलाइन के साथ ही साथ ऑनलाइन मार्शल आर्ट प्रशिक्षण बालिकाओं की सुरक्षा हेतु चलाये जा रहे मिशन शक्ति कार्यक्रम में आज मुख्य अतिथि के रूप में एसपी ग्रामीण अपर्णा गौतम का बच्चों को मार्गदर्शन प्राप्त हुआ साथ ही साथ अंतर्राष्ट्रीय ताइक्वांडो मास्टर डॉ पुनीत मनीषी के निर्देशन में प्रशिक्षण जारी रहा। 


    मुख्य अतिथि अपर्णा गौतम ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि जरूरत पड़ने पर वह तुरंत महिला पुलिस की मदद ले सकती हैं जरूरत पड़ने पर 1090 वह 112 डायल पर अपनी शिकायत दर्ज करा अपनी हेल्प के लिए हमको बुला सकती हैं. उन्होंने कहा कहा कि कोई भी पीड़ित महिला अश्लील कॉल, मैसेज आने पर अपनी शिकायत इस नंबर पर नि:शुल्क दर्ज करवा सकती है.

    शिकायत करने वाली महिला की पहचान पूरी तरह गोपनीय रखी जाती है, पीड़िता को किसी भी हालत में थाने या किसी पुलिस ऑफिस में नहीं बुलाया जाता है. हेल्पलाइन में हर हाल में पीड़िता से महिला पुलिस अधिकारी ही बात कर शिकायत दर्ज करती है. महिला पुलिसकर्मी अपने सीनियर पुरुष पुलिसकर्मियों को पीड़ित की केवल उतनी ही जानकारी या सूचना उपलब्ध कराती हैं, जो मामले की जांच में सहायक हो सके, कॉल सेंटर दर्ज शिकायत पर तब तक काम करता रहता है, जब तक उस पर कार्रवाई पूरी नहीं हो जाती। इस अवसर पर महाविद्यालय प्राचार्य डॉ नसीमउश्शान खान ने संबोधित करते हुए कहा कि छात्राओं के लिए आज यह जानना जरूरी है कि उनकी सुरक्षा के लिए सड़क पर कौन-कौन तत्पर है कहां उनकी सुरक्षा किस तरह हो सकती है, इसका ज्ञान समस्त छात्राओं को होना चाहिए. जो छात्राएं मार्शल आर्ट जैसा प्रशिक्षण प्राप्त कर रही है वह आगे अपने गली मोहल्ले में छात्राओं भी लोगों को प्रशिक्षित करें।

    इस अवसर पर  मुख्य प्रशिक्षक राष्ट्रीय ताइक्वांडो मास्टर डॉ पुनीत मनीषी जी ने संबोधित करते हुए कहा कि अपनी खुद की रक्षा करना हर व्यक्ति को आना चाहिए और उसे खुद को इतना सक्षम बनाना चाहिए लेकिन किसी भी व्यक्ति को आत्मरक्षा के अधिकार का गलत फायदा नहीं उठाना चाहिए। हमें सुरक्षा के नए तरीके सीखने चाहिए और महिलाओं को भी आत्मरक्षा करनी सिखानी चाहिए। हमारी खुद की सुरक्षा हमारे हाथ में हैं और हमें उसका प्रयोग करना आना चाहिए। जिस दिन सब आत्मरक्षा करना सीख जाऐंगे उस दिन वह बिना किसी डर के घूम पाऐंगे। छात्राओं को सेल्फ डिफेंस करने की तमाम तकनीकों का ज्ञान दिया गया। आज के कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय सेवा योजना की कार्यक्रम अधिकारी डॉ.कहकशा बेगम ने किया व अंत मे सभी का आभार महाविद्यालय प्राचार्य डॉ नसीमउश्शान खान ने किया.  इस अवसर पर  मिशन शक्ति की एक रिपोर्ट डॉ समन जेहरा जैदी ने मुख्य अतिथि के समझ प्रस्तुत की। इस अवसर पर डिस्टिक नोडल ऑफीसर एनएसएस डॉक्टर शबाना साजिद, नोडल इंचार्ज मिशन शक्ति कायर्क्रम  प्राचार्या राजकीय इंटर कॉलेज, तिलहर डॉ.शहला नुसरत किदवई, कार्यक्रम अधिकारी डॉ. मोहम्मद तारिक, महात्मा ज्योतिबा फुले रुहेलखंड विश्वविद्यालय के कार्यक्रम कोऑर्डिनेटर एन.एस.एस डॉ सोमपाल सिंह,   रेंजर इंचार्ज डॉ.समन ज़हरा जै़दी  रोवर्स इंचार्ज डॉ. काशिफ़ नईम, एनसीसी इंचार्ज डॉ. इमरान खान के साथ अंतर्राष्ट्रीय ताइक्वांडो खिलाड़ी ऐशान्या मनीषी, नेहा, रेखा कश्यप, निधि यादव,  फि़ज़ा, आलिया, शिवांगी इत्यादि छात्राओं ने ऑफलाइन प्रशिक्षण में सहयोग किया व जनपद की तमाम छात्र- छात्राओं ने कार्यक्रम में ऑनलाइन प्रतिभाग किया।

    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.