Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    महिलाओं के कल्याण के लिए चलायी गयी है प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना

    महिलाओं के कल्याण के लिए चलायी गयी है प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना

    शाहजहांपुर.
    गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के कल्याण के लिए प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना चलायी गयी है। योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि काम करने वाली महिलाओं की मजदूरी के नुकसान की भरपाई करने के लिए मुआवजा देना और उनके उचित आराम और पोषण को सुनिश्चित करना। इस योजना के तहत पहली बार गर्भवती होने पर पोषण के लिए पांच हजार रूपये गर्भवती के खाते में दिए जाते हैं। इसकी पहली किश्त 1000 रूपये की गर्भधारण के 150 दिनों के अन्दर गर्भवती महिला का पंजीकरण होने पर तथा दूसरी किश्त 2000 रूपये की 180 दिनों के अंदर और कम से कम एक प्रसव पूर्व जाँच हो जाने पर और तीसरी किश्त 2000 रूपये की प्रसव पश्चात् तथा शिशु के प्रथम टीकाकरण चक्र पूर्ण होने पर मिलती है।

    मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया है कि जनपद शाहजहांपुर में प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लक्ष्य जनवरी 2017 से सितंबर  2020 तक 59966 दिया गया था जिसके सापेक्ष 50901 को पंजीकृत करके लाभान्वित किया जा चुका है जो कि लक्ष्य के सापेक्ष 85 प्रतिशत है l उन्होंने बताया है कि  प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत लाभार्थी को अपने ग्राम की आशा या आंगनबाड़ी  कार्यकत्री अथवा निकटतम प्राथमिक या सामुदायिक केंद्र पर जाकर नियमानुसार फार्म 01 ए ,फार्म 01 बी ,और फार्म 01 सी भर सकते हैं l इसी कार्य को और अधिक आसान बनाने के लिये अब राज्य स्तर से प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की हेल्पलाइन नम्बर  7998799804 को जारी किया गया है।अब प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत लाभार्थियों को आ रही समस्याओं के निराकरण के लिए शासन स्तर जारी हेल्प लाइन नंबर के माध्यम से लाभार्थी अपनी समस्या का निराकरण करा सकेंगे। लाभार्थी को योजना का लाभ उठाने में यदि कोई दिक्कत महसूस हो रही है या वह इस योजना से संबंधित कोई जानकारी लेना चाहते है तो वह हेल्पलाइन नंबर 7998799804 पर कॉल करके अपनी समस्या का निराकरण करा सकते है।

    मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एस. पी. गौतम  ने बताया कि राज्य स्तर से जारी हेल्पलाइन नंबर 7998799804 पर कॉल करके  लाभार्थी  योजना के आवेदन संबंधी तथा भुगतान न होने पर आ रही समस्या से सम्बंधित शिकायत दर्ज कराकर समस्या  का निराकरण करा सकते  है। उन्होंने बताया इस नंबर पर कॉल करने पर और बताए गये निर्देश का पालन करने पर प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के  प्रतिनिधि स्वयं लाभार्थी को फोन कर उनकी समस्या का निस्तारण करेंगे। इस  योजना से संबंधित कोई भी प्रतिनिधि लाभार्थी से ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) नहीं पूछता है और न ही संवेदनशील सूचनायें जैसे अकाउंट नंबर, सीवीवी पिन मांगता है। यदि कोई व्यक्ति लाभार्थी से इस तरह की जानकारी मांगता है। तो उसे यह जानकारी कतई न दें। इस तरह की जानकारी मांगने वाला व्यक्ति प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का प्रतिनिधि नहीं हो सकता है ।

    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.