Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    हरदोई: ट्रिपल मर्डर केस- साधु सहित एक ही परिवार के तीन लोगों की निर्मम हत्या, इलाके में सनसनी

    साधु सहित एक ही परिवार के तीन लोगों की निर्मम हत्या, इलाके में सनसनी

    (मरने वालों में पति-पत्नी व पुत्र शामिल, पुलिस तफ्तीश में जुटी)

    टड़ियावां।

    हरदोई जिले के टड़ियावां इलाके में एक ही परिवार के तीन लोगों की निर्मम हत्या कर दी गई। घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गयी है। चारों तरफ दहशत का माहौल व्याप्त हो गया। सूचना मिलने पर एसपी अमित कुमार सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा।

    घटना की तफ्तीश के लिए आसपास के लोगों से पूंछतांछ की जा रही है। जानकारी के मुताबिक, टड़ियावां के कुंआमऊ में बीती रात एक ही परिवार के 3 लोगों की ईंट-पत्थर से कूचकर हत्या कर दी गई। मृतकों में हीरादास, उसकी पत्नी मीरादास व उनका पुत्र नेतराम था। जानकारी मिली कि उक्त तीनों कुंआमऊ इलाके में स्थित एक आश्रम में रहते थे।

    बीती रात किसी ने इन तीनों की बेरहमी से हत्या कर दी। हालांकि घटना के कई पहलू सामने नहीं आए हैं। लिहाजा, पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश में जुटी हुई है। आखिर क्या वजह रही होगी कि किसी ने तीनों को इतनी बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया।

    ****

    कुछ वर्ष पहले यहां आकर बसे थे..

    टड़ियावां।

    गांव वालों से जानकारी करने पर पता चला कि हीरादास मूल रूप से गंगई के रहने वाले थे। कुछ वर्ष पहले उनका आध्यात्मिक क्षेत्र से लगाव हुआ और वे अपनी पत्नी मीरादास व नेतराम के साथ कुंआमऊ में एक आश्रम बनाकर रहने लगे। मंगलवार सुबह आश्रम के कमरे में लोगों के उक्त तीनों के शव पड़े देखे तो हाहाकार मच गया। देखते ही देखते मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई।

    **


    एसपी, एडीजी, डीएम आदि आला अधिकारी मौके पर पहुंचे..


    टड़ियावां।

    इलाके में हुई इस सनसनीखेज और नृशंस घटना के बाद सूचना मिलते ही एसओ, एसपी, एसडीएम, डीएम सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा और घटनास्थल की जांच की। उसके बाद एडीजी भी मौके पर पहुंचे और सभी घटनात्मक पहलुओं पर एसपी से बात की। इस बीच घटना के क्षेत्र में किसी भी व्यक्ति को नहीं जाने दिया गया। हालांकि अभी तक पुलिस हत्या का कारण तलाशने में जुटी हुई है।

    ***

    आरोपी जल्द ही होंगे गिरफ्त में..

    टड़ियावां।

    एक ही रात परिवार के तीन लोगों की बेरहमी से हत्या करना प्रथमदृष्टया किसी एक व्यक्ति का काम नहीं हो सकता। संभव है कि कम से कम दो से तीन लोगों ने मिलकर इस घटना को अंजाम दिया हो। हालांकि पुलिस घटना से जुड़े हर पहलू पर गहराई से जांच कर रही है। वहीं एसपी अमित कुमार का कहना है कि जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

    ****

    घटना का मूल कारण जर-जोरू-जमीन तो नहीं..

    टड़ियावां।

    जानकार लोगों का कहना है कि मुख्यतः ऐसे मामलों में घटना का प्रमुख कारण जर-जोरू-जमीन में से कोई एक, दो या तीनों हो सकते हैं। इस घटना को लेकर यह कहना भी मुश्किल होगा क्योंकि कई वर्षों से आश्रम बनाकर उक्त परिवार दूसरे गांव में जीवनयापन कर रहा था और इस गांव में इनकी जमीन या अन्य कोई संपत्ति तो नहीं थी। ऐसे में मामले का कारण कहीं न कहीं इनके पैतृक गांव से जुड़ा हुआ लगता है।

    ****

    गांव वालों से की जा रही पूंछतांछ, अभी कोई ठोस सबूत नहीं मिला..

    टड़ियावां।

    हत्या के इस मामले को लेकर पुलिस को अभी कोई ठोस सबूत नहीं मिला है। पुलिस अधिकारियों के द्वारा आसपास के लोगों सहित गांव वालों से पूंछतांछ की जा रही है। इसके अलावा घटनास्थल की गहनता से जांच की जा रही है।


    **

    चीखने-चिल्लाने की आवाज भी किसी ने नहीं सुनीं..

    टड़ियावां।

    गांव वालों से जानकारी करने पर पता चला कि रात में यह घटना किस समय घटी, इस बारे में किसी को कुछ पता नहीं चला। यह आश्रम गांव के पश्चिम दिशा में आबादी से दूर करीब 500 मीटर की दूरी पर स्थित है। इससे यह बात तो स्पष्ट हो जाती है कि जब उनकी हत्या की जा रही थी तो उनके द्वारा चीखने-चिल्लाने की आवाज भी किसी को नहीं सुनाई दी। माने, जिन लोगों ने भी इस घटना को अंजाम दिया है, उसका पहले से प्लान करके रखा था क्योंकि यदि यह हत्या तमंचे आदि फायर करके की जाती तो सामान्यतः गांव में किसी न किसी को उसकी फायर की आवाज जरूर सुनाई पड़ती। जिससे उन लोगों को घटना को अंजाम के बाद वहां से भाग निकलने में परेशानी होती। शायद इसीलिए उन्होंने ईंट-पत्थरों से कुचलकर परिवार के तीनों सदस्यों की हत्या की।

    **

    हत्या का कारण कहीं कोई पुरानी रंजिश तो नहीं..

    टड़ियावां।

    आशंका यह भी जताई जा रही है कि परिवार के तीनों सदस्यों की हत्या करने का कारण कहीं कोई पुरानी रंजिश तो नहीं। कुछ वर्ष पहले अपने मूल गांव को छोड़कर यहां आश्रम बनाकर बस जाना भी कहीं न कहीं इस ओर इंगित करता है या फिर कहीं ऐसा तो नहीं कि जमीन-जायदाद या किसी संपत्ति के मामले को लेकर किसी ने पूरे परिवार को ही समाप्त करने की योजना बनाई हो और फिर इस घटना को अंजाम दे दिया हो। बहरहाल, घटना का वास्तविक कारण क्या है, यह पुलिस द्वारा की जा रही जांच पूरी हो जाने के बाद ही सामने आ सकेगा।

    आई एन ए न्यूज़ डेस्क
               हरदोई

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.