Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कुशीनगर में शातिर साइबर फ्रॉड गैंग का पर्दाफाश, फर्जी ग्राहक सेवा केन्द्र चला करते थे ठगी

    कुशीनगर में शातिर साइबर फ्रॉड गैंग का पर्दाफाश, फर्जी ग्राहक सेवा केन्द्र चला करते थे ठगी

    कुशीनगर।
    जनपद में साइबर अपराध पर अंकुश कायम करने के लिये चलाये जा रहे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह के निर्देशन व अपर पुलिस अधीक्षक के पर्यवेक्षण व क्षेत्राधिकारी सदर के नेतृत्व  के क्रम में कल दिनांक 12 सितम्बर को थाना तुर्कपट्टी व साइबर सेल की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा साइबर अपराधियो की एक गैंग के पाँच सदस्यों को गिरफ्तार करते हुये एक बड़ी खुलासा किया गया है।

    बता दें कि मुखबिर की सूचना पर थाना क्षेत्र तुर्कपट्टी स्थान भेलया शिवमन्दिर संस्कृत पाठशाला के पास से अभियुक्तगणों  राहुल धवन पुत्र देवेन्द्र जायसवाल साकिन वार्ड़ नं0 एक खड्डा थाना खड्डा जनपद कुशीनगर, विशाल जायसवाल पुत्र भीम जायसवाल साकिन खड्डा चीनी मिल (हनुमान मन्दिर के पास) थाना खड्डा जनपद कुशीनगर, पवन कुशवाहा पुत्र स्व0 गनेश कुशवाहा साकिन अहिरौली कुसमी थाना रामकोला जनपद कुशीनगर,  मो0 शादकीन पुत्र सिराजुद्दीन साकिन पिपरापुर वार्ड़ नं0 62 थाना तिवारीपुर जनपद गोरखपुर  रमेश निषाद पुत्र श्रीनरायन साकिन बहरामपुर थाना तिवारीपुर जनपद गोरखपुर के कब्जे से एक अदद लैपटाँप  मय प्रिन्टर, माऊस, फिंगर प्रिन्ट स्कैनर, लैपटाँप चार्जर, कीबोर्ड, आठ अदद मोबाइल, आधार कार्ड़ मूल पाँच अदद और छाया प्रति पन्द्रहअदद, आधार कार्ड़ प्रिन्ट करने का पेपर 94 पीस NOVO कम्पनी 130GSM, 06 अदद ATM कार्ड व अभियुक्तगणों की तलाशी से उनके पास से दो अदद पेनड्राईव व एक अदद USB कनेक्टर बरामद किया गया। गिरफ्तारी व बरामदगी के आधार पर थाना तुर्कपट्टी पर मु0 दर्ज कर अग्रिम कार्यवाही की जा रही है ।

    ********************************

    अपराध करने का ये था इनका तरीका...

    केन्द्र सरकार व प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी  विभिन्न योजनाओं का लाभ दिलाने के नाम पर गांवों में घूमकर ग्रामीणों से उनका फोटो,आधार कार्ड, बैंक खाता का विवरण आदि डिटेल प्राप्त करते हैं और उसके आधार पर फर्जी आधार कार्ड फोटो व नाम पता  बदलकर तैयार कर गलत नाम पते से सिम चालू करते हैं तथा इसी आधार पर फर्जी नाम पते से ग्राहक सेवा केन्द्र (CSP) का लाईसेंस हासिल कर लेते हैं तथा खाताधारक का निशानी अंगुठा प्राप्त कर नकली थंम्ब तैयार करते हैं तथा आधार इनेबल पेमेंट सिस्टम (AEPS) के माध्यम से खाताधारक के खाते से फर्जी तरीके से निकाल लेते हैं।

    अभियुक्त पवन कुशवाहा द्वारा फर्जी आधार कार्ड तैयार करने,राहुल धवन व विशाल द्वारा उसी फर्जी आधार कार्ड पर फर्जी सिम चालू करने तथा मो0 शादकीन व रमेश द्वारा फर्जी सिम,बैंक एकाउन्ट डिटेल, फर्जी आधार कार्ड को सहजनवां गोरखपुर के राजेश नामक व्यक्ति से फर्जी थम्ब तैयार कराकर फ्रांड करके खाता धारकों का पैसा निकाल लेते हैं।

    संजय राजपूत
    रीजनल एडिटर गोरखपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.