Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    तहसील तिलहर में सपाइयों का हल्ला बोल, दस सूत्री ज्ञापन सौंपा

    तहसील तिलहर में सपाइयों का हल्ला बोल, दस सूत्री ज्ञापन सौंपा        

    तिलहर/शाहजहांपुर.

    सरकार की विफलताओं को गिनाते हुए समाजवादी पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल को संबोधित 10 सूत्रीय ज्ञापन उप जिलाधिकारी को सौंपा। प्रदर्शन के दौरान नजर आए अधिकांश जिला कमेटी सदस्य एंव आम जन का भी समर्थन मिला। शीर्ष नेतृत्व के आवाहन पर सुनियोजित एक दिवसीय धरना प्रदर्शन के लिए समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता तहसील प्रांगण के मुख्य गेट पर जुटे।इस दौरान सपा कार्यकर्ताओं ने जबरदस्त नारेबाजी और हंगामा करते हुए लगभग आधे घंटे तक तहसील का मुख्य द्वार का आवागमन बाधित रखा।मौके पर उपस्थित पुलिस फोर्स इस दौरान मूकदर्शक की स्थिति में नजर आया।


    कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए उप जिला अधिकारी कार्यालय के प्रांगण के गेट पर बैठ गए और नारेबाजी करने लगे।पूर्व विधायक राजेश यादव ने प्रदेश सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि मौजूदा सरकार की नीतियों के चलते किसान,नौजवान,बुनकर और दूसरे कमजोर वर्गों की उपेक्षा हो रही है तो वहीं प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त है सपा कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न भ्रष्टाचार रुकने का नाम नहीं ले रहे तो वहीं महिलाएं बच्चियां भी सुरक्षित नहीं है।उन्होंने कहा कि आने वाले समय में प्रदेश की जनता भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकेगी।सपा व्यापार सभा के जिला अध्यक्ष सौरभ गुप्ता रवि ने प्रदेश सरकार पर अपना गुस्सा निकालते हुए कहा कि प्रदेश सरकार की नीतियां विशेष तौर पर कृषि बिल किसानों का शोषण करने का एक माध्यम भविष्य में बनने जा रहा है।

    उन्होंने कहा कि जब प्रदेश का किसान शोषित और परेशान होगा तो इसका असर पूरे प्रदेश की अर्थव्यवस्था और समाज पर पड़ेगा उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार व्यापारियों का भी शोषण करने से बाज नहीं आ रही है। व्यापार सभा जिला अध्यक्ष ने भाजपा सरकार पर हूंकार भरते हुए कहा कि 2022 में प्रदेश का युवा और व्यापारी तथा किसान इस सरकार का तख्ता पलट कर देगा।डॉ नवनीत यादव ने कहा कि भाजपा सरकार में पुलिस मित्र तो नहीं बन सकी उत्पीड़न की एजेंसी जरूर बन गई है उन्होंने कहा कि अपराधियों में पुलिस का खौफ नहीं रह गया है तो वही फर्जी एनकाउंटर और हिरासत में मौतों की वजह से उत्तर प्रदेश की बदनामी अलग से हो रही है।

    पूर्व विधानसभा प्रत्याशी अब्दुल कादिर ने आक्रोशित लहजे में कहा कि भाजपा सरकार ने अपने कार्यकाल में जनहित की कोई भी योजना लागू नहीं की बल्कि समाजवादी सरकार की योजनाओं पर अपने नाम का ठप्पा लगा दिया या फिर उनको बर्बाद कर दिया यूपी डायल,एंबुलेंस सेवा हेल्पलाइन 1090,181 से मिलने वाले लाभ से प्रदेश की जनता को वंचित कर दिया है जो कि एक तरह से जनता का खुला शोषण है।उन्होंने कहा कि 2022 में एक बार फिर अखिलेश यादव प्रदेश के मुख्यमंत्री बनेंगे।सपा अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के पूर्व प्रदेश सचिव अनवर उल्ला खां ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी के नेताओं कार्यकर्ताओं का फर्जी केस लगा कर हो रहा उत्पीड़न सरकार बंद करें उन्होंने कहा कि जेल में बंद सपा सरकार के पूर्व मंत्री एवं सांसद मोहम्मद आजम खान और उनके परिवार पर जो बदले की भावना से उत्पीड़न की कार्रवाई की जा रही है उसे बंद किया जाए साथ ही उन्होंने मांग की जब तक राज्य सरकार बेरोजगारों के लिए आजीविका का व्यवस्था ना कर सके उन्हें बेरोजगारी भत्ता दे।

    हालांकि प्रदर्शन के दौरान नगर क्षेत्र के चेहरे नाम मात्र को ही दिखे अधिकांश चेहरे जिला कमेटी के नजर आए। उप जिलाधिकारी वेद सिंह चौहान को ज्ञापन देने वालों में पूर्व सपा जिला अध्यक्ष प्रदीप पांडे सैयद रिजवान अहमद राजेश मौर्य जिला कोषाध्यक्ष महान दल दिव्यांश कोविद सिंह सैफ अली खान लालबाबू इजहार खान हरिमोहन गुप्ता जितेंद्र यादव अड्डू पूर्व चेयरमैन इमरान खान शशांक गुप्ता रवि यादव सपा नगर अध्यक्ष आरिफ अंसारी विश्वनाथ सिंह यादव मोबिन हुसैन जीशान नेता नईम खान नसीम खान मोहम्मद अहसान तनवीर कुरेशी मोहम्मद हारुन रजी अहमद मोहम्मद आफाक आदि मौजूद रहे।

    प्रदर्शन के दौरान सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन होता देखकर पुलिस क्षेत्राधिकारी परमानंद पांडे ने सभी लोगों से चेहरे पर मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंस का पालन करने की अपील की। कोतवाल दीपक शुक्ला,एसएसआई वी.के. मौर्या भारी पुलिस बल के साथ इस दौरान मौजूद रहे।


    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.