Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    केंद्र सरकार के खिलाफ़ किसानों का हल्ला बोल, कहा, कृषि विधयेक बिल बर्दाश्त नहीं

    केंद्र सरकार के खिलाफ़ किसानों का हल्ला बोल, कहा, कृषि विधयेक बिल बर्दाश्त नहीं

    शाहजहांपुर। मोदी सरकार के द्वारा लाये गए कृषि बिल के खिलाफ विरोध के सुर तेज होने लगे हैं। विपक्षी पार्टियों के अलावा अब किसान भी अपनी हक की लड़ाई को लड़ने के लिए कमर कस चुके हैं। शुक्रवार को देशव्यापी आंदोलन का पूरा असर शाहजहांपुर में भी दिखाई दिया।हाइवे को पूरी तरह से चक्का जाम किया। और जिले के सभी प्रमुख हाइवे पर किसानों ने चक्का जाम कर सरकार के खिलाफ एक सुर में नारेबाजी की  और इस कृषि विधयेक को जल्द वापस लेने की मांग रखी।
           कृषि विधयेक के खिलाफ भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने तपती धूप में प्रदर्शन करते हुए लखनऊ, दिल्ली, पलिया, शाहजहॉपुर, लखीमपुर, पीलीभीत हाइवे जाम करते हुए जमकर धरना प्रदर्शन कर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। इस पर किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं का कहना था कि केंद्र सरकार के द्वारा इन अध्यादेशों को आनन-फानन में लागू करने का प्रयास किया जा रहा है जिससे सरकार की मंशा पर शक होना लाजमी है। जिससे किसान पूरी तरह अपने आपको ठगा हुआ महसूस कर रहा ये कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा । सरकार के द्वारा लागू किया गया कृषि बिल किसानो के लिए पूरी तरह से नुकसान दायक है इससे किसानों का उत्पीड होगा और पूंजीपतियों की मौज होगी। यदि सरकार किसान विरोधी इस कृषि बिल को वापस नहीं लेती तो किसान आर पार की लड़ाई लड़ने को तैयार रहेगा। प्रदर्शन के दौरान भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष मनजीत सिंह ने कहा कि सरकार ने जो 3 अध्यादेश लागू किये हैं वह किसानो के खिलाफ है और हम इसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेंगे। सरकार इन बिलों को वापस ले अन्यथा हम सरकार के खिलाफ किसी भी हद तक जा सकते है।

    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.