Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    साजिश के तहत खैराबाद के इंदिरा पार्क की बाउंड्री निर्माण का कार्य रुकवाया गया

    साजिश के तहत खैराबाद के इंदिरा पार्क की बाउंड्री निर्माण का कार्य रुकवाया गया

    विरोध मे बच्चे बूढ़े महिलाओं सभी वर्ग के लोगों ने किया विरोध एक स्वर से कहा इंदिरा पार्क की बाउंड्री बनके रहेगी

    उप जिला अधिकारी सदर ने इंदिरा पार्क में आकर बाउंड्री तत्काल बनाने के निर्देश दिए थे तथा कहा था कि 3 दिन के पश्चात आकर बाउंड्री देखेंगे

    सीतापुर.
    जनपद के खैराबाद कस्बे में ऐतिहासिक इंदिरा गांधी पार्क मे बन रही चारदीवारी पर फिर से ग्रहण लग गया है जबकि उप जिलाधिकारी सदर अमित भट्ट ने नागरिकों की शिकायत के आधार पर 1 सितंबर को इंदिरा पार्क आकर पार्क में अपनी भूमि बता रहे अजमत पुत्र रहमत निवासी चिल्लायं सरायं के लेखाभिलेखो की जांच उपरांत आदेश दिया था कि पार्क की बाउंड्री तत्काल बनाई जाए । यह उनका आदेश है तथा उन्होंने पार्क में बाउंड्री में लग रही ईटों की भी जांच कर काफी नाराजगी जाहिर की थी ।

    मौके पर मौजूद ठेकेदार ने तथा नगर पालिका परिषद के जेई राघवेंद्र सिंह ने कहा था कि पार्क की बाउंड्री की बुनियाद पक्की करा कर उस पर लेंटर डाला जाएगा तथा बाउंड्री तत्काल बनाई जाएगी लेकिन कल दिनांक 2 सितंबर को बाउंड्री बनाई ही नहीं गई सिर्फ प्लास्टर करके आज 3 सितंबर को काम ही बंद कर दिया गया सूत्रों का कहना है कि नगर पालिका परिषद के लोगों की साजिश के कारण यह प्रयास किया जा रहा है कि किसी तरह उस हिस्से की बाउंड्री ना बनने पाए जहां पर अजमत पुत्र रहमत का दावा किया जा रहा है और यह मामला धीरे धीरे ठंडा हो जाए तथा उचित अवसर मिलने पर उस जगह पर कब्जा कर लिया जाए विदित हो कि नगर क्षेत्र में नजूल भूमि अधिक होने के कारण यहां पर नजूल भूमि पर कब्जा करने बेचने और खरीदने का कार्य जोरों पर है इसी कारण अनाधिकृत रूप से सरकारी जमीनों पर कब्जे हो रहे हैं इसी के विरोध में आज नगर क्षेत्र के बच्चे युवा बूढ़े तथा महिलाओं ने नगर क्षेत्र के विभिन्न मार्गो से होकर शांति मार्च निकाली तथा विरोध प्रदर्शन किया नागरिकों का कहना है कि नगर क्षेत्र में बड़ी मुश्किल से नागरिकों की मांग पर देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के नाम पर एक पार्क दिया गया था.

    जिसका उद्घाटन 22 दिसंबर 1973 को उत्तर प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा के द्वारा किया गया था अब उसी पार्क स्थानीय भू माफियाओं के द्वारा पूर्व में नीलाम करने की साजिश की गई तथा नगर पालिका परिषद के पूर्व पालिका अध्यक्ष वहां के लोगों के द्वारा इसको पालिका बाजार में तब्दील करने की भी साजिश की जा चुकी है जिसमें राज्यपाल व जिलाधिकारी के हस्तक्षेप के उपरांत इसको बचाया जा सका था ।उसके उपरांत पार्क के भीतर दो-दो फीट जमीन देने का भी प्रस्ताव पूर्व के चेयरमैन के द्वारा साजिश के तहत किया जा चुका है । इंदिरा पार्क की बाउंड्री निर्माण का कार्य तत्काल कराया जाए अन्यथा नागरिक आंदोलन करने पर मजबूर होंगे ।

    इस संबंध में अधिशासी अधिकारी हृदयानंद उपाध्याय ने बताया कि इंदिरा पार्क की बाउंड्री को प्राथमिकता के आधार पर बनवाया जाएगा यदि कोई भी व्यक्ति उसी स्थान पर अपनी भूमि का दावा करता है तो उसे अपना दावा सिद्ध करना पड़ेगा लेकिन पार्क की बाउंड्री को सुरक्षा की दृष्टि को देखते हुए रोका नहीं जा सकता है ।
    इस संबंध में उप जिलाधिकारी सदर अमित भट्ट से वार्ता की गई तो उन्होंने बताया कि इंदिरा पार्क की बाउंड्री तत्काल बनवाई जाएगी तथा इस संबंध में वह ईओ को दिशा निर्देश जारी करेंगे।

    शरद कपूर
    सीतापुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.