Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कोरोना महामारी से बचाव और कोविड 19 के नियमों की पाबंदी की वजह से नही होगा 175 वां उर्स चरागा-फुरक़ान मियां

    कोरोना महामारी से बचाव और कोविड 19 के नियमों की पाबंदी की वजह से नही होगा 175 वां उर्स चरागा-फुरक़ान मियां      

    खैराबाद/सीतापुर.

    स्थानीय दरगाह हाफिज़िया अस्लमिया में प्रत्येक वर्ष इस्लामी महीना सफर की 6 व7 तारीख को उर्स चरागा बड़ी धूम धाम से मनाया जाता है परन्तु इस वर्ष श्रद्धालुओं को और जनमानस को अपनी इच्छाओं को मारना पड़ेगा क्योंकि कोविड 19 के अंतर्गत कोरोना महामारी के कारण न तो वो दरगाह में आकर दर्शन  कर पाएंगे और न ही चरागा कर पाएंगे केवल अपने घर मे ही रहकर नियाज़ करेंगे और मन्नतें मानेंगे।

    फोटो- सज्जादानशीन हाजी सैय्यद
    फुरक़ान मियां हाशमी साहब

    विदित हो कि सिलसिले चिश्तिया के सुप्रसिद्ध बुज़ुर्ग सय्यदुस सादात हाफ़िज़ मोहम्मद अली शाह उर्फ बड़े हाफ़िज़ साहब अलैहिर्रहमा जिनकी मज़ार दरगाह में स्थित है आपके पीरो मुर्शिद गुरु हज़रत ख्वाजा सुलेमान तौंस्वी के उर्स के अवसर पर दरगाह में प्रत्येक वर्ष उर्स चरागा का आयोजन किया जाता है परन्तु इस बार 24 सितम्बर से शुरू होने वालादो दिवसीय 175 वां उर्स चरागा नही मनाया जाएगा।

    फोटो- दरगाह हाफिज़िया अस्लमिया खैराबाद शरीफ

    दरगाह के सज्जादानशीन हाजी सैय्यद फुरक़ान वहीद हाशमी उर्फ फुरक़ान मियां ने अपने जारी एक संदेश में कहा कि कोविड 19 के नियमों के पालन तथा कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी जो पूरी दुनिया मे फैली है उसके संक्रमण से बचने तथा भारत सरकार एवं उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुपालन में इस वर्ष उर्स चरागा नही होगा किसी को भी आने की अनुमति नही है और न ही दरगाह का मुख्य गेट जो 24 मार्च से बन्द है उसे भी नही खोला जाएगा केवल 24 सितम्बर की रात्रि तथा 25 सितम्बर की प्रातः इस अवसर पर फातेहा का कार्यक्रम होगा जिसमें केवल सज्जादानशीन ,मतवल्ली एवं सिलसिले से जुड़े मुख्य लोगों एवं अंजुमन खुद्दामे हाफ़िज़ के मुख्य कार्य कर्ताओं के अलावा किसी को भी आने की इजाज़त न होगी इस लिए आप लोग अपने घरों में रहें और सुरक्षित रहें घर पर ही नज़रों नियाज़ का प्रबन्ध करें,श्री हाशमी ने कस्बे के अलावा देश,विदेश एवं अन्य प्रदेशों से आने वाले श्रद्धालुओं से निवेदन करते हुए कहा कि जो पैसा खैराबाद आने में खर्च करते वही पैसा अपने आस पास के ग़रीबो  पर खर्च करें उनके खाने पीने के सामान की अच्छी व्यवस्था करवाएं,क्योंकि असल काम यही है,तथा अल्लाह से दुआ करें कि हमारे मुल्क हिंदुस्तान ही क्या पूरी दुनियां में अमनो अमान व शांति बनी रहे।

    शरद कपूर / काजिम हुसैन

    आई एन ए न्यूज सीतापुर-

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.