Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    युवक की संदिग्ध मौत के मामले में हत्या का केस दर्ज, पुलिस जांच में जुटी

    युवक की संदिग्ध मौत के मामले में हत्या का केस दर्ज, पुलिस जांच में जुटी

    अयोध्या।
    ईश्वर प्रदत्त मानव तन कैसे मिला है?   और  क्या कार्य करना है?  उससे विमुख होकर  जब मानव  खुद को  आत्महत्या की तरफ धकेल देता है,  तो एक तरफ परिवार वालों को  कष्ट होता है,  वहीं पर ईश्वर द्वारा  सौपे  गए कार्य को भी ना करने के कारण  वह भी नाराज हो जाते हैं। आत्महत्या हत्या सामाजिक धार्मिक और कानूनन अपराध है। अयोध्या जनपद के बीकापुर कोतवाली  क्षेत्र के मलेथू कनक निवासी युवक राम आशीष निषाद  की  संदिग्ध मौत के मामले में  कोतवाली पुलिस ने  मृतक के पिता की तहरीर पर  अज्ञात के खिलाफ  धारा 302  आईपीसी का केस दर्ज किया है।

    मलेथू कनक निवासी 40 वर्षीय राम आशीष निषाद का शव  उसके घर के समीप पड़ोसी के कच्चे ओसारे में बास की बडेर से रस्सी के सहारे संदिग्ध हालत में लटकता मिला था। मृतक युवक के पिता हरीराम निषाद द्वारा कोतवाली में दी गई तहरीर में कहा गया है कि उनके पुत्र राम अशीष का शव गले में रस्सी के सहारे लटका मिला था। उनके पुत्र को किसी द्वारा मारकर टांग दिया है। और हत्या कर दी गई है। जिस की तहरीर कोतवाली बीकापुर में दिया है और पुलिस ने मामले को दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है आसपास के लोगों के बयान लिए जा रहे हैं घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चा चल रही है किंतु हत्या है या आत्महत्या है इसका खुलासा अभी नहीं हो सका है ।


    देव बक्स वर्मा अयोध्या

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.