Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या मंडल के जनपद अंबेडकरनगर जिला जेल में विचाराधीन कैदी ने की आत्महत्या

    अयोध्या मंडल  के जनपद अंबेडकरनगर जिला जेल में विचाराधीन कैदी ने की आत्महत्या
    जेल में बंद आत्महत्या करने वाले के पास आत्महत्या करने का सामान कैसे पहुंचा
     जेल प्रशासन क्या कर रहा था जांच का विषय 
    अयोध्या/ अम्बेडकरनगर।
     जब पूरा देश स्वतंत्रता दिवस की 74वीं वर्षगांठ का  जश्न मना रहा था।   सरकार सजायाफ्ता कैदियों को जिन की सजा कम है उन्हें रिहा भी  कर रही थी।  वहीं पर अम्बेडकरनगर के जिला जेल में कैद एक विचाराधीन कैदी ने आत्महत्या करके  रंग में भंग डाल दिया । बताया जाता है कि दोपहर बाद विचाराधीन कैदी 22 वर्षीय राजन चौहान के आत्महत्या करने की सूचना से जिला प्रशासन और कारागार प्रशासन में खलबली मच गई है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

          जेल अधीक्षक  ने बताया कि विचाराधीन कैदी के आत्महत्या करने के कारणों की जांच की जा रही है । जलालपुर थाना क्षेत्र के डड़वा मगुराडिला निवासी राजन चौहान  को  12 अगस्त को पास्को एक्ट में गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेजा था। कोरोना संक्रमण के चलते शासन की गाइडलाइन के अनुसार राजन को अन्य कैदियों से अलग बैरक में क्वॉरेंटाइन किया गया था।
    पुलिस के अनुसार राजन पहले भी गांव में एक-दो बार सुसाइड का प्रयास कर चुका है। यह बात बड़ी टेढ़ी लग रही है क्योंकि उसके आत्महत्या करने  के प्रयास के कोई शिकायत नहीं है फिलहाल अहम सवाल है की उसके पास आत्महत्या से सम्बंधित  सामान कैसे पहुंचे  और हत्या करते समय किसी ने देखा भी नहीं । यदि उसके पास सामान थे तो भी जेल प्रशासन ने उसके सामान जमा क्यों नहीं करवाए थे। यह भी जांच का विषय है। इस घटना से जेल प्रशासन पुलिस प्रशासन जिला प्रशासन सब में खलबली मच गई क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चाएं होने लगी कि आखिर उस व्यक्ति ने आत्महत्या क्यों किया क्या वह फर्जी मुकदमे में जेल जाने के कारण पीड़ित था या अन्य कोई कारण था जांच का विषय है।


     देव बक्श वर्मा
     आई एन ए न्यूज़ 
    अयोध्या उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.