Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    नगर विधायक के मोहल्ला वासियों ने सड़क निर्माण में अनियमितता की डीएम से की शिकायत

    नगर विधायक के मोहल्ला वासियों ने सड़क निर्माण में अनियमितता की डीएम से की शिकायत

    गोरखपुर।
    नगरीय विकास अभिकरण (डूडा) गोरखपुर के वार्ड संख्या-23 बेतियाहाता में आर्यन हॉस्पिटल के सामने सहारा गली में इंटरलॉकिंग सड़क निर्माण में अनियमितता और खराब गुणवत्ता के संबंध में स्थानीय लोगों ने डीएम से लिखित शिकायत की है।

    अपनी लिखित शिकायत में लोगों ने लिखा कि डूडा विभाग गोरखपुर द्वारा वार्ड-23 के आर्यन हॉस्पिटल के सामने सहारा गली में इंटरलॉकिंग सड़क निर्माण हेतु निविदा ठेकेदार सुरेंद्र त्रिपाठी को प्राप्त हुई है। मार्च-अप्रैल 2020 में ठीकेदार दोयम दर्जे की इंटरलॉकिंग ईंट को पहले की इंटरलॉकिंग पर बिछा रहा था। नाली के निर्माण में भी दोयम दर्जे का सेमा ईंट प्रयोग कर रहा था। जिसकी शिकायत जनसुनवाई पोर्टल पर करने और माननीय विधयक राधामोहन दास अग्रवाल के विरोध करने पर ठीकेदार ने काम रोककर ईंटे वापस उठा ली थी।

    उस समय विधायक जी के समक्ष विभाग के इंजीनियरों ने कहा था कि गली में 6 इंच गिट्टी, बालू, सीमेंट के मिश्रण को बिछा कर उस पर दुरमुस चलाकर इंटरलॉकिंग बिछाई जाएगी। पर ऐसा कुछ किया नही जा रहा।

    अगस्त 2020 में पुनः इस गली का निर्माण कार्य शुरू हुआ है। इस बार सिर्फ पुरानी इंटरलॉकिंग को उखाड़ कर उसकी जगह नही नई इंटरलॉकिंग ईंट बिछाई जा रही है, जो बिना रबर बॉन्डिंग की इंटरलॉकिंग ईंटे हैं। ना तो नई गिट्टी डाली गई ना ही सीमेंट और ना बालू का इस्तेमाल किया जा रहा है। पुरानी इंटरलॉकिंग में पहले से पड़ी हुई गिट्टी पर इंटरलॉकिंग ईंटों को बिछा कर बस कोरम पूरा किया जा रहा है। जिससे सरकारी पैसे का दुरुपयोग हो रहा है। जिसके कारण गली की ऊँचाई में कोई वृद्धि नही हो रही जबकि गली में हल्की बारिश से भी भारी जल जमाव हो जाता है। इस तरीके से बनी हुई सड़क ज्यादा दिनों तक टिक नही पाएगी। माननीय विधायक राधामोहन दास अग्रवाल जी से कार्य मे सुधार हेतु बात की गई तो उन्होंने भी हाथ खड़े कर दिए। उनका कहना है कि ठीकेदार और विभाग उनकी नही सुन रहा और उन्होंने लोगों को अपने स्तर पर जिलाधिकारी के समक्ष विरोध और शिकायत दर्ज कराने को कहा है।

    लोगों ने डीएम से अनुरोध किया है कि इस निर्माण कार्य मे गुणवत्ता की जाँच करा कर उचित कार्यवाही करें। आरोप है कि विभाग और ठेकेदार मिलीभगत कर निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार द्वारा सरकारी पैसे का दुरुपयोग करने में लगे हुए हैं।

    अमित कुमार सिंह
    INA News गोरखपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.