Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या: हत्या के मामले में मृतक की पत्नी सहित तीन आरोपी गिरफ्तार, गए जेल

    अयोध्या:  हत्या के मामले में मृतक की पत्नी सहित तीन  आरोपी गिरफ्तार, गए जेल 
    कलयुगी  पत्नी का खेल आया सामने, जो अपने पति के मौत का कारण बनी
    अयोध्या
    पत्नी भाग्य विधाता होती है, पत्नी घर की लक्ष्मी होती है। और यदि पत्नी चाहे तो पति के मौत का कारण भी बन जाती है। ऐसे ही मामला प्रकाश में आया है।
     अयोध्या जनपद के कोतवाली बीकापुर की पुलिस ने  हत्या के मामले में मृतक की पत्नी सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार करके  जेल भेज दिया।   मामला चाहे जो हो किंतु पुलिस की विवेचना में जो बात सामने उभर कर आई है उससे लगता है कि युवक की मौत का कारण उसकी पत्नी ही है। बताया जाता है कि मलेथू कनक निवासी 40 वर्षीय राम अशीष निषाद का शव  उसके घर के समीप पड़ोसी के कच्चे ओसारे में बास की बडेर से एक पतली रस्सी के सहारे संदिग्ध हालत में लटकता मिला था। यह भी बताया गया की मृतक रोजी रोटी के सिलसिले में मुंबई में रहता था। लाक डाउन के दौरान काम धंधा बंद होने पर मुंबई से घर वापस आया था। मृतक युवक के पिता हरीराम निषाद द्वारा कोतवाली में दी गई तहरीर पर कोतवाली पुलिस द्वारा अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया गया। आरोप लगाया गया कि उसके पुत्र राम अशीष को किसी द्वारा मारकर टांग दिया है।
           किंतु पुलिस द्वारा  मामले की विवेचना चल रही थी विवेचना के दौरान पुलिस को जो सुराग मिले हैं उसके अनुसार पुलिस ने कार्यवाही किया।  इसी दौरान  मुखबिर खास की सूचना पर गठित की गई पुलिस टीम द्वारा  आरोपी मृतक की पत्नी रीता निषाद और उसके प्रेमी दिनेश कुमार निषाद, एवं महेश कुमार कोरी सभी निवासी मलेथू कनक को कोतवाली क्षेत्र के पिपरी तिराहे के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक  कोतवाली बीकापुर व महिला  पुलिस शामिल रही।

    घटना को लेकर क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चा चल रही है कि यदि वह बेचारा युवक यह जानता कि उसकी पत्नी ही उसकी मौत का कारण बनेगी तो शायद मुंबई में ही रह जाता।
     इससे मृतक के पत्नी का खेल भी खुल गया है ।

    देव बक्स वर्मा अयोध्या

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.