Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या: राम नगरी अयोध्या के सीमा का होगा विस्तार, बस्ती व गोंडा जनपद के कई गांव अयोध्या में हो सकते हैं शामिल

    अयोध्या: राम नगरी अयोध्या के सीमा का होगा विस्तार, बस्ती व गोंडा जनपद के कई गांव अयोध्या में हो सकते हैं शामिल 

    अयोध्या।
    राम नगरी अयोध्या का चतुर्दश विकास के लिए नया खाका तैयार किया जा रहा है। जिसमें अयोध्या नगर निगम का विस्तार चारों तरफ होगा। उत्तर दिशा में सरयू नदी अयोध्या जनपद की सीमा होती है ऐसे में उत्तर दिशा को बढ़ाने के लिए सरयू नदी के उस पार गोंडा और बस्ती जनपद के कुछ गांवों को शामिल किया जा सकता है। जिसके लिए तैयारियां चल रही है। राम मंदिर निर्माण की नींव रखे जाने के बाद नव्य अयोध्या का खाका तैयार किया जा रहा है। जिसके तहत नगर के सभी प्रमुख मार्गों, प्राचीन स्थलों, मठ मंदिरों का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। और सूत्रों के मुताबिक जल्द ही केंद्र सरकार अयोध्या का सीमा विस्तार को लेकर बड़ी घोषणा कर सकती है।

    मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम के मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व्यक्तिगत तौर पर शामिल हुए। इस दौरान अयोध्या को सांस्कृतिक व आर्थिक रूप से विकसित किए जाने की मंशा जाहिर की थी। जिसको लेकर जल्द ही अयोध्या के विकास संबंधित योजना की घोषणा कर सकते हैं वही उत्तर प्रदेश सरकार भी अयोध्या का सीमा विस्तार करने के लिए खाका तैयार किया है।
    बताया जाता हैकि अयोध्या में गोंडा के नवाबगंज व बस्ती के विक्रमजोत ब्लॉक के कई गांव अयोध्या में शामिल किया जा सकता है। जिसके लिए शासन को प्रस्ताव भेजा जा चुुका है। वहीं अयोध्या मेंं सौंदर्यीकरण के तहत प्रमुख मार्ग सहित पंचकोशी परिक्रमा 14 कोसी परिक्रमा व 84 कोसी परिक्रमा के चौड़ीकरण व सुंदरीकरण का कार्य, अयोध्या से जुड़े सभी प्रमुख धार्मिक स्थलों के सौंदर्यीकरण, प्राचीन मठ मंदिरों के जीर्णोद्धार के साथ रामजन्मभूमि परिसर के आसपास के सभी क्षेत्रों के सौंदर्यीकरण की योजना के तहत कार्य किया जाएगा। यदि संभव हो जाता है तो अयोध्या का चौमुखी विकास दिखाई पड़ेगा और अयोध्या नए नक्शे पर आ जाएगा जो गांव अयोध्या में शामिल हो जाएंगे उनके भी भाग खुल जाएंगे वहीं पर सरयू नदी पर पुल बनाकर सरयू के उस पार भी विकास हो जाएगा।

     देव बक्स वर्मा अयोध्या

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.