Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    इस्लामिया इंटर कॉलेज में पण्डित श्रीराम वाजपेई का जन्मदिवस मनाया गया

    इस्लामिया इंटर कॉलेज में पण्डित श्रीराम वाजपेई का जन्मदिवस मनाया गया

    शाहजहाँपुर.
    इस्लामिया इण्टर कालेज, शाहजहाँपुर में  स्काउट के जनक पण्डित श्रीराम वाजपेई का जन्मोत्सव मनाया गया। प्रधानाचार्य  मोहम्मद आमीन की अध्यक्षता में सम्पन्न हुए समारोह में स्काउट प्रभारी हुसैन मोहम्मद मुस्तफा ने वाजपेई जी के जीवन पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए बताया कि भारत में स्काउट-गाइड के जनक श्रीराम वाजपेयी की जन्म व कर्मभूमि यही नगरी है। इनका जन्म शहर के मध्य बहादुरगंज सब्जी मंडी में 11 अगस्त, 1880 को हुआ था।7 नवंबर, 1950 को ब्वाय स्काउट इंडिया व हिंदुस्तान स्काउट एसोसिएशन का विलय हुआ और भारत स्काउट एवं गाइड का जन्म हुआ। वाजपेयी इसके प्रथम राष्ट्रीय संगठन कमिश्नर तथा प्रथम राष्ट्रीय कैंप चीफ चुने गए। उप प्रधानाचार्य लेफ्टिनेंट मोहम्मद  अय्यूब ने स्काउट के महत्व को अपने वक्तव्य में रेखांकित किया। उन्होंने बताया कि प्रांतीय शिक्षा मंत्री से परामर्श कर भारत सरकार की ओर से इन्हें स्काउट मास्टर की शिक्षा पाने के लिए इंग्लैंड भेजा गया। इसके उपरांत श्रीराम ने फ्रांस, बेल्जियम, हालैंड, जर्मनी, इटली आदि देशों में भ्रमण स्काउट-गाइड में महारत हासिल की। डॉ0 मलिक अस्मत अली ने विद्यार्थी जीवन और स्काउट विषय पर केंद्रित विचार रखे।उन्होंने बताया कि शहर के अधिसंख्य निवासियों को नहीं मालूम कि नगर के मध्य राष्ट्रीय स्तर की ऐतिहासिक बिल्डिंग खड़ी है। वह भवन है रोटी गोदाम भवन, जहां प्रथम विश्व युद्ध के दौरान सैनिकों के लिए रोटियां बनायी व संग्रह की जाती थीं। कालांतर में बच्चों का स्कूल बनाकर उसे रोटी गोदाम स्कूल का नाम दे दिया गया। यहीं भारत में स्काउट-गाइड के जन्मदाता पं. श्रीराम वाजपेयी अध्यापन कार्य किया करते थे।

    प्रधानाचार्य मोहम्मद आमीन ने स्काउट के इतिहास पर अपने विचार व्यक्त करते हुए विद्यालय में स्काउट की गतिविधियों एवं उपलब्धियों को रेखांकित किया।उन्होंने बताया कि इस्लामिया इंटर कालेज पिछले दो वर्ष से लगातार स्काउट जूनियर वर्ग प्रतियोगिता में प्रथम रहा है और मण्डल प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया है।प्रधानाचार्य ने उनके जीवन की एक घटना के बारे में बताया कि एक बार वाजपेई जी बाजार से अखबार में रखकर जलेबी खा रहे थे। उस अखबार में ही विश्व में स्काउट के जन्मदाता वेडन पावेल का जिक्र था। इसे पढ़कर स्काउट के बारे में जानने के लिए शाहजहांपुर में मिस्टर ऑक्स अधिकारी से मिले और विदेश से स्काउट की किताबें मंगवाईं। कार्यक्रम में मोहम्मद अब्दुल समद खां,सगीर अहमद,निसार हसन खां, एस उपाध्याय, के साथ गुलाम साबिर आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन मोहम्मद अफ़रोज़ खां ने किया।

    फ़ैयाज़ उद्दीन  शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.