Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कोरोना टेस्टिंग एवं कॉन्टेक्ट टेस्टिंग की स्पीड बढ़ाई जाए- नोडल अधिकारी जितेन्द्र कुमार

    कोरोना टेस्टिंग एवं कॉन्टेक्ट टेस्टिंग की स्पीड बढ़ाई जाए- नोडल अधिकारी जितेन्द्र कुमार

    शाहजहांपुर.
    कोरोना टेस्टिंग एवं कॉन्टेक्ट टेस्टिंग की स्पीड बढ़ाई जाए, जितनी तीव्र गति से कोरोना टेस्टिंग एवं कॉन्टेक्ट टेशटिंग होगी उतनी ही जल्दी कोरोना की चैन पर बे्रक लगाया जा सकता है। यह विचार प्रमुख सचिव सामान्य प्रशासन, उ0प्र0 समन्वय, भाषा, संस्कृति, प्रशासनिक सुधार एवं लोक से प्रबन्धन, राष्ट्रीय एकीकरण विभाग व जनपद के नोडल अधिकारी जितेन्द्र कुमार ने पंडित राम प्रसाद विस्मिल संयुक्त जिला चिकित्सालय कें सभागार में कोविड-19 की आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान व्यक्त किए।
    बैठक में प्रमुख सचिव ने  मुख्य चिकित्साधिकारी एवं मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को निर्देश दिए कि कोविड हाॅस्पिटलों में भर्ती कोरोना पाॅजिटिव मरीजों के सम्पर्क में रहे। उन्होंने कोविड-19 के मरीजों के खानपान व्यवस्था के सम्बन्ध में तथा षौचालय, साफ-सफाई  एवं अन्य समस्याओं की जानकारी प्राप्त कर उन समस्याओं का निस्तारण कराएं जाने के भी निर्देश दिए। नोडल अधिकारी ने अस्पताल में सी0सी0टी0वी कैमरों के बारे में जानकारी ली जिसमें प्राचार्य द्वारा अवगत कराया गया कि सभी कैमरें संचालित है और कैमरों का प्रदर्षन बाहर से होता है तथा चिकित्सालय में दो लिफ्ट स्थापित है, जिसमें से एक लिफ्ट सही दशा में एव दूसरी लिफ्ट क्रियाशील नहीं है। प्रमुख सचिव ने दूसरी लिफ्ट को तत्काल सही कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने अस्पताल के सभागार में माॅनिटर भी लगवाए जाने के निर्देश दिए।

     जितेन्द्र कुमार ने कोविड-19 मरीज सुमन आयु 48 वर्ष की महिला से फोन पर वार्ता की। महिला द्वारा बताया गया कि भोजन, सफाई व्यवस्था आदि ठीक है। इसी प्रकार सुनीता द्वारा बताया गया कि भोजन, दलिया, दूध, केला आदि मिल रहा है किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं है। विजय पाल सिंह द्वारा बताया गया कि कल से चक्कर आ रहा है, डाक्टरों द्वारा दवाई दी गयी है. भोजन गुणवत्तापूर्ण मिल रहा है तथा सफाई व्यवस्था ठीक है। रचना 18 वर्ष की लड़की द्वारा बताया गया कि सांस लेने में दिक्कत है। मलखान द्वारा बताया गया कि 15 मिनट के लिए आक्सीजन बचा है। समस्त मरीजों की फीडबैक संतोश जनक मिलने पर प्रमुख सचिव ने निर्देश दिए कि कोविड-19 मरीजों से उनके स्वास्थ्य व व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी लेते रहे। उन्होंने कहा है कि अगर  मरीज से बात करते रहेंगे तो वह खुष रहेगा,उससे बात करने से मेडीसिन से ज्यादा उर्जा मिलेगी और साथ ही कोविड-19 हाॅस्पिटल की व्यवस्थाओं पर भी सुधार होगा।
    इस अवसर पर जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह, मुख्य विकास अधिकारी प्रेरर्णा शर्मा,मुख्य चिकित्साधिकारी एस.पी गौतम, प्रिंसिपल मेडिकल अभय सिन्हा आदि अधिकारी उपस्थित रहें।

    फ़ैयाज़ उद्दीन  शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.