Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सीडीओ प्रतिदिन दो बार करेंगी कोविड-19 कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेन्टर की विजिट

    सीडीओ प्रतिदिन दो बार करेंगी कोविड-19 कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेन्टर की विजिट 

    शाहजहांपुर.
    मुख्य विकास अधिकारी/कामाण्ड सेन्टर की नोडल अधिकारी प्रत्येक दिवस दिन में दो बार कलेक्ट्रेट में स्थापित एकीकृत कोविड-19 कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेन्टर का विजिट करेंगी तथा समस्त पटलों के कार्यो की गतिविधियां देखेंगी और लापरवाही करने वाले अधिकारी एवं कर्मचारी का उत्तरदायित्व तय करेंगी। यह बात जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने पंडित राम प्रसाद विस्मिल संयुक्त जिला चिकित्सालय में आयोजित कोविड-19  की समीक्षा बैठक के दौरान कही। उन्होंने कहा कि मुख्य चिकित्साधिकारी एवं  अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 शैलन्द्र कुमार द्वारा गुडवर्क तो किया जा रहा है परन्तु स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारियों की प्रगति धीमी है।

    जिलाधिकारी ने कहा है कि मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅक्टरों को बाध्य करें कि कोविड-19 हाॅस्पिट एल-1 एवं एल-2 में 3 टाइम कोविड-19 के मरीजों को पी.पी. किट पहनकर कर उनका हाल-चाल व स्वास्थ्य के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे। डाॅक्टरों से यह भी सुनिष्चित कराए कि कोविड-19 के मरीजों से हाल-चाल लेते समय फोटो व वीडियों शेयर कराएं। ताकि यह पता चल सकें कि डाॅक्टरों द्वारा ठीक प्रकार ढंग से कोविड के मरीजों की देख रेख की जा रही है अथवा नहीं? उन्होंने कहा है कि एल-1 एवं एल-2 हाॅस्पिटल में भोजन की व्यवस्था के बारे में किसी प्रकार की षिकायत नहीं प्राप्त हो रही है परन्तु यह देखा जाए कि कोविड-19 मरीजों को समय भोजन गुणवत्तापूर्ण भोजन दिया जा रहा है अथवा नहीं? जिलाधिकारी ने कहा है कि कोविड-19 हाॅस्पिटलों में भोजन की व्यवस्था, सफाई व्यवस्था आदि की डेली समीक्षा की जाए तथा लापरवाही करने वाले अधिकारी एवं कर्मचारी के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जाए।
                         सिंह ने कहा है कि कोविड-19 कामाण्ड एण्ड कंट्रोल सेन्टर के माध्यम से प्रत्येक दिवस 90 मरीजों से वार्ता की जाती है। इसके साथ-साथ उन्होंने यह भी कहा हेै कि चिकित्साधिकारी भी अपने दायित्वों को समझे तथा डेली कोविड-19 के मरीजों से उनकी देख-रेख व स्वास्थ्य के बारे में वर्ता करें। ताकि यह सुनिष्चित हो कि कोविड-19 के मरीजों को किसी प्रकार की समस्या नहीं है। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिए है कि अपने अधीनस्थों की निगरानी करें कि जिसको जो कार्य दिया गया है उनके द्वारा पूरा किया जा रहा है या नहीं? इस पर भी उन्होंने  पैनी नजर रखने को कहा। उन्होंने कहा है कि 1300 निगरानी समितियों की टीम बनाई गयी थी। निगरानी समितियों द्वारा फील्ड में वर्क किया जा रहा अथवा नहीं की भी निगरानी की जाए। जिलाधिकारी ने कहा है कि 17 टीमें कोविड-19 टेस्ट के लिए बनाई गयी है समस्ट टीमों द्वारा कहां-कहां पर कार्य किया जा रहा है कि निगरानी जाए और कोविड-19 टेस्टिंग की स्पीड बढ़ाई जाए तथा प्रतिदिन लगभग 1600 टेस्ट किया जाना सुनिष्चित किया जाए। उन्होंने कहा है कि कांटेक्ट टेशटिंग पर पैनी नजर रखी जाए तथा कांटेक्ट टेशटिंग की रिपोर्ट डेली पोर्टल पर अपलोड कराई जाए।
                        बैठक में पुलिस अधीक्षक  एस. आनन्द, मुख्य विकास अधिकारी प्रेरणा शर्मा, प्रिसिंपल मेडिकल काॅलेज डाॅ अभय कुमार सिन्हा, मुख्य चिकित्साधिकारी  एसपी. गौतम, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी शैलेन्द्र कुमार आर्य सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहें।

    फ़ैयाज़ उद्दीन  शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.