Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बलिया जिले के मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय ने देर रात फांसी लगाकर ख़ुदकुशी कर ली, उसके बाद जिले में मचा था हड़कम्प

    बलिया जिले के मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय ने देर रात फांसी लगाकर ख़ुदकुशी कर ली, उसके बाद जिले में मचा था हड़कम्प

    बलिया।
    उत्तर प्रदेश के ख़बर बलिया जिले के मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी ने देर रात फांसी लगाकर ख़ुदकुशी कर ली। उनकी लाश जिला मुख्यालय के आवास विकास कालोनी में पंखे के हुक से लटकती मिली। मौके से पुलिस को सुसाइड नोट भी मिला है। इस मामले में प्रताड़ना को लेकर शक की सुई भाजपा के नगर पंचायत अध्यक्ष की तरफ घूम रही है। वही फांसी लगा ली।
    मृतका की फाइल फोटो

    जानकारी के अनुसार, जिले के मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय ने कल रात्रि लगभग 10 बजे जिला मुख्यालय पर आवास विकास कालोनी में पंखे के हुक से लटकते हुए अवस्था में मिला। वह जिला मुख्यालय पर आवास विकास कालोनी में किराये के मकान में रहती थी। बहुमंजिला मकान में तीसरे तल पर अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय रहती थी। बताया जाता है कि बहुमंजिला मकान में रहने वालों को कमरे की खिड़की के शीशे से कुछ हिलता हुआ दिखाई दिया। इसके बाद किसी अनहोनी की आशंका होने पर किसी ने डायल 112 और पुलिस को इसकी सूचना दी। सूचना मिलने के बाद तत्काल पहुंची कोतवाली पुलिस अधिशासी अधिकारी के कमरे का दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंची। अधिशासी अधिकारी अपने बैडरूम में बेड के ऊपर ही फंदे पर झूली हुई थी। मौके पर तत्काल फॉरेंसिक टीम पहुँची। टीम के जांच पड़ताल करने के बाद डेड बॉडी को नीचे उतारा गया। महिला अधिकारी के आत्महत्या करने की घटना के बाद सनसनी फैल गई।

    घटना की सूचना मिलते ही जिलाधिकारी पहुंचे घटना की सूचना मिलते ही जिलाधिकारी हरि प्रताप शाही, पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र नाथ, अपर पुलिस अधीक्षक संजय यादव, उप जिलाधिकारी सदर अन्नपूर्णा गर्ग सहित वरिष्ठ पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस को मौके से सुसाइड नोट भी मिला है। सुसाइड नोट में महिला अधिकारी ने लिखा है कि बलिया में मेरा साथ बड़ा धोखा हुआ है। मेरे साथ गलत हुआ है। मुझसे गलत काम करा लिया गया। जिले की सरहद पर स्थित गाजीपुर जिला के भांवरकोल थाना क्षेत्र की रहने वाली मणि मंजरी राय की तैनाती तकरीबन दो वर्ष पहले मनियर नगर पंचायत में हुई थी। सोमवार को वह घर मे अकेले ही थी। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

    मनियर नगर पंचायत अध्यक्ष भीम गुप्ता अधिशासी अधिकारी के आत्महत्या करने के पीछे भाजपा से जुड़े मनियर नगर पंचायत अध्यक्ष भीम गुप्ता की कथित प्रताड़ना को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। बताते हैं कि अधिशासी अधिकारी राय नगर पंचायत अध्यक्ष की प्रताड़ना व भ्रष्ट कार्यप्रणाली को लेकर बेहद परेशान रह रही थी। उसने इस मामले की जानकारी पिछले दिनों जिला मुख्यालय पर कार्यरत एक प्रशासनिक अधिकारी को भी दी थी। नगर निकाय का प्रभार देखने वाले इस प्रशासनिक अधिकारी ने नगर पंचायत अध्यक्ष को तलब कर अध्यक्ष को फटकार भी लगाई थी।

    अधिशासी अधिकारी ने अपनी महिला मित्रों, जिसमें जिले में कार्यरत प्रशासनिक अधिकारी को समय समय पर जानकारी दिया था कि अध्यक्ष लगातार गलत काम कर रहे हैं तथा उस पर गलत काम करने के लिए दबाव बना रहे हैं। उसने सादा चेक बुक पर हस्ताक्षर कराने की भी जानकारी दी थी। इस मामले में पुलिस परिजनों की तरफ से शिकायत मिलने का इंतजार कर रही है। पुलिस अधीक्षक देवेंद्र नाथ ने बताया कि पुलिस मामले से जुड़े सभी तथ्यों की जांच कर रही है। इस मामले ने जिले के नगर निकायों में चल रहे भ्रष्टाचार को सामने ला दिया है।

    आसिफ जैदी
    आई एन ए न्यूज़ बलिया

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.