Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सब्जी-फल वालों से गाली गलौज कर ठेला पलट देने का पुलिस पर आरोप

    सब्जी-फल वालों से गाली गलौज कर ठेला पलट देने का पुलिस पर आरोप

    हापुड़।
    उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ के सिटी कोतवाली पुलिस पर फल ठेला चालकों से गली गलौज मारपीट कर फलों से भरे ठेले पलटने का आरोप लगा है । जहां पूरा देश कोरोना जैसी महामारी की वजह से परेशानियों से जूझ रहा है तो वहीं गरीब मजदूर तबका इससे सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। गरीब लोग अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए मजदूरी के लिए घर से निकल कर अपने व अपने परिवार की पेट की आग बुझाने की कोशिश में लगे है ।

    सिटी कोतवाली पुलिस पर कुछ ठेले वालों ने आरोप लगाया कि पुलिसकर्मी आए दिन हमारे साथ मारपीट गाली गलौज करते रहते हैं। अब तो हद ही हो गई। जब सिटी कोतवाली पुलिस थाना देहात क्षेत्र के पन्नपुरी के बाहर आई और ठेला चालकों को डंडे मार मार कर वहां से खदेड़ दिया। कुछ फल वाले अपना ठेला छोड़ कर वहां से भाग गए तो पुलिस कर्मियों ने फलों से भरे ठेले को नाले में पलट दिया। जिससे इन गरीब मजदूरों को हजारों रुपए का नुकसान हो गया ।

    हालांकि वहां से हापुड़ के सदर विधायक विजयपाल आढ़ती भी गुजर रहे थे। भीड़ को देखकर उन्होंने अपनी गाड़ी रुकवाई और वहां भीड़ इकट्ठा होने का कारण पूछा। इस पर ठेले वाले उनसे अपना दुखड़ा रो दिया। तभी वहाँ मीडिया का कैमरा चलता देख विधायक उनकी समस्या पूरी सुने बिना ही वहां से खिसक  गए। जिससे ऐसा प्रतीत होता है कि विधायक को गरीब मजदूर की समस्या से कोई सरोकार नहीं है ।

    हालांकि इस मामले में  पुलिस अधिकारी  का कहना है कि बार-बार शिकायत आ रही थी कि हॉटस्पॉट क्षेत्र में कुछ दुकानें खुली हैं और ठेले वाले ठेले लगाए हुए हैं। जिस को हटाने के लिए सिटी कोतवाली  पुलिस गई थी। पुलिस को देखकर ठेला चालक भागने लगे। जिससे कुछ ठेले चालकों का ठेला नाले में पलट गया। जो पुलिस पर आरोप लगे हैं। वह निराधार है। पुलिस ने किसी का कोई ठेला नाले में नहीं पलटा । यद्यपि बड़ा सवाल बना हुआ है कि थाना देहात क्षेत्र के पन्ना पूरी क्षेत्र में, जहां थाना देहात पुलिस को जाना चाहिए था, वहां सिटी कोतवाली पुलिस क्या कर रही थी। आखिर देहात पुलिस को सूचना क्यों नही दी गई।

    आईएनए न्यूज़, हापुड़

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.