Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    दातागंज सी.एच.सी. में हड़कंप, शैलेश पाठक के धरने पर बैठते ही ओपीडी खोलने का दिया आश्वासन

    दातागंज सी.एच.सी. में हड़कंप, शैलेश पाठक के धरने पर बैठते ही ओपीडी खोलने का दिया आश्वासन

    बदायूं / दातागंज.
    डॉ शैलेश पाठक ने आज अपने समर्थकों के साथ सरकारी एडवाइजरी  का पालन करते हुए दातागंज सीएचसी पर ओपीडी खोलने को लेकर धरना दे दिया जिससे यहां अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया चिकित्सक अधीक्षक देवेन्द्र आते ही वोले आज तत्काल ओपीडी खोलने का अश्वासन दिया। आपको बताते चलें दातागंज अस्पताल की ओपीडी कई दिनों से बंद थी जिससे आए दिन जरूरतमंद लोग अपने इलाज के लिए तरस रहे थे एवं मजबूर होकर निजी अस्पतालों में जा रहे थे.

    अधिकांश निजी अस्पताल बंद होने से आम आदमी का इलाज क्षेत्र में एक बड़ी समस्या बन गया है। डॉ पाठक ने बताया आए दिन रोज मेरे पास शिकायतें आ रही थी आज  पुनः कुछ लोग इलाज के लिए यहां आए जिनके द्वारा मुझे यह बताया गया की इलाज संभव नहीं हो रहा जब सब्र का बांध टूट गया तब मैंने यह निर्णय लिया कि आज ओपीडी खुलवाने के लिए  धरना शुरू किया जाएगा। डॉ पाठक ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना से सबसे ज्यादा उत्पीड़न बेसहारा मजबूर लोगों का हुआ। उन्होंने कहा इससे भयावह स्थिति और क्या हो सकती है कि आदमी अपने साधारण इलाज के लिए जगह-जगह ठोकरें खा रहा है। निजी अस्पताल कोरोना के नाम पर जहां साधारण बुखार वाले व्यक्ति को देखने से मना कर देते हैं वहीं आम व्यक्ति भी साधारण बुखार होने पर अपने लिए सुरक्षित महसूस नहीं कर रहा है। ज्ञापन देने के दौरान चिकित्सक अधीक्षक ने तुरंत ओपीडी खोलने का आश्वासन दिया। इस दौरान उनके साथ राकेश वर्मा, दीपक गुप्ता, मनोज कुमार, पप्पू शर्मा, सुनील मिश्रा, सुजान यादव, ठाकुर मनोज सोलंकी, ठाकुर प्रवेश कुमार सिंह, महेश वर्मा वीरू मिश्रा सर्वेश यादव रहे।

    दातागंज से मनोज गुप्ता की रिपोर्ट

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.