Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    टैक्सी बुक कराकर घर लौट रहा व्यक्ति हुआ जहर खुरानी का शिकार, कार सवार युवकों ने घटना को दिया अंजाम, अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहा अधेड़

    टैक्सी बुक कराकर घर लौट रहा व्यक्ति हुआ जहर खुरानी का शिकार, कार सवार युवकों ने घटना को दिया अंजाम, अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहा अधेड़

    अयोध्या।
    अजमेर सिंह मध्य प्रदेश में नौकरी के लिए गया था ।  तो उसके दिमाग में तमाम तरह के  सोच  चल रही थी, कि  लौटने के बाद  अमुक काम को करेंगे।  किंतु  इस कोरोना  संक्रमण के चलते  वह मध्य प्रदेश से  कमाकर  अपने घर  सीधोरा आ लौट रहा था।  तो उसे यह नहीं पता था कि रास्ते में उसे  इस तरह की  घटना का सामना करना पड़ेगा।  शायद यह जानता  तो मध्यप्रदेश में ही रुका रहता।  किंतु होनी को कौन टाल सकता है । अयोध्या जनपद के कुमारगंज थाना क्षेत्र के सिधौना निवासी 52 वर्षीय अधेड़ अयोध्या रोडवेज से टैक्सी कार बुक करा कर अपने घर के लिए निकला था कि वह जहर खुरानी गिरोह का शिकार हो गया तथा जहर खुरान गिरोह ने अधेड़ के सामान एवं नगदी लूट कर सड़क के किनारे फेंक दिया।

           मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने बेसुध पड़े अधेड़ को इलाज के लिए सीएचसी मिल्कीपुर पहुंचाया। हालत गंभीर देख सीएससी के चिकित्सकों में अधेड़ को जिला अस्पताल रेफर कर दिया।
         प्राप्त जानकारी के अनुसार सिधौना ग्राम पंचायत अंतर्गत खदरा गांव निवासी 52 वर्षीय अजमेर सिंह मध्यप्रदेश में किसी कंस्ट्रक्शन कंपनी में कार्य करते हैं । वह  भोर मे  रोडवेज बस से फैजाबाद बस अड्डे पर पहुंचे थे, जहां उन्होंने अपनी पत्नी से फोन पर बात की थी और बताया था कि काले रंग की एक टैक्सी कार मिल गई है मैं बुक करा कर सीधे घर अभी पहुंच रहा हूं।
            अधेड़ के परिजनों का कहना है कि उन्होंने बारुन बाजार तक अपनी लोकेशन दी थी। इसके बाद अचानक उनका मोबाइल स्विच ऑफ बताने लगा था। उधर काले रंग की टैक्सी कार सवार युवकों ने अधेड़ को अपना शिकार बना लिया , तथा उसे नशीला पदार्थ खिलाकर उसके पास मौजूद एटीएम कार्ड सोने की चैन एवं अंगूठी तथा अन्य कागजात व नगदी छीन लिए और अधेड़ अजमेर सिंह को इनायत नगर थाना क्षेत्र स्थित प्राथमिक विद्यालय मीठे गांव के पास सड़क के किनारे कार से धकेल कर भाग निकले थे। सुबह शौच के लिए निकले ग्रामीणों ने सड़क के किनारे पड़े व्यक्ति को देखते ही 112 पीआरबी  पुलिस को सूचना दी और एंबुलेंस बुलाकर आनन-फानन में इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। अस्पताल पहुंचते - पहुंचते अधेड़ की शिनाख्त अजमेर सिंह के रूप में हुई।
          सीएचसी के डॉक्टरों ने हालत गंभीर देख बेहोश अजमेर को जिला अस्पताल रेफर कर दिया सूचना मिलते ही सिधौना गांव से उनके परिजन भी अस्पताल पहुंचे।  पुलिस भी मामले की जांच कर रही है किंतु ना गाड़ी का नंबर है, ना लोगों का पता, ऐसे में पुलिस के लिए भी बड़ी चुनौती है ।

    देव बक्श वर्मा
    आई एन ए न्यूज़ अयोध्या - उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.