Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    प्रजापति मूर्ति कारीगरों के शोषण और उत्पीडन रोकने से संबंधित ज्ञापन विधायक पुरषोतम खंडेलवाल को दिया

    प्रजापति मूर्ति कारीगरों के शोषण और उत्पीडन रोकने से संबंधित ज्ञापन विधायक पुरषोतम खंडेलवाल को दिया 

    आगरा.
    आज सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा ने आगरा के  मूर्ति कारीगरों, शिल्पी, और मूर्ति उत्पादन कर्ता के साथ- पुरषोतम खंडेलवाल, विधायक आगरा नार्थ को एक ज्ञापन- रीजनल ऑफिसर  आगरा, उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, द्वारा कारीगरों को दिए गए नोटिस के संदर्भ में दिया.

    इस साल मई में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेडकर- पर्यावरण,वन एवं जलवायु परिवर्तन ने कहा था कि प्लास्टर ऑफ़ पेरिस से बनी मूर्तियों की बिक्री पर रोक एक साल टली गयी है. आगरा में प्रजापति (हजारों की तादाद में है) मूर्ति कारीगरों का सुख चैन रीजनल ऑफिसर  आगरा, उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, के १६ जुलाई २०२० के नोटिस ने छीन लिया. वैसे ही करोना लॉक डाउन से बिक्री नहीं थी, और अब कुछ आस जगी थी. इस नोटिस में पकडे जाने पर क़ानूनी कार्यवाही का जिक्र है. साथ ही पकडे जाने पर गाइडलाइन्स पूरा न होने पर मूर्ति जब्त और कम से कम दो साल के प्रतिबन्ध का उलेख है. इस से आगरा के  मूर्ति कारीगरों, शिल्पी, और मूर्ति उत्पादन कर्ता में डर का माहौल है. साथ ही बिना वजह कम आय वाले आगरा के  मूर्ति कारीगरों, शिल्पी, और मूर्ति उत्पादन कर्ता का उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा शोषण और उत्पीडन का भय भी है.

    सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा का मानना है के यह शोषण और उत्पीडन का स्पष्ट प्रयास है. कोविद काल में जहाँ आम आदमी अपनी रोजी रोटी कमाने में कठिनाई का सामना कर रहा है और यहाँ एक डिपार्टमेंट शोषण और उत्पीडन की परिस्थिति बना रहा है.

    सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा ने पुरषोतम खंडेलवाल, विधायक आगरा नार्थ से अनुरोध किया कि

    १.  वह रीजनल ऑफिसर  आगरा, उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, से बात कर आगरा के  मूर्ति कारीगरों, शिल्पी, और मूर्ति उत्पादन कर्ता को जारी किये गए पत्र को जनहित में वापिस कर वाएं, जिस से भय, शोषण और उत्पीडन का माहौल ख़तम हो.

    २.   साथ हि रीजनल ऑफिसर  आगरा, उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड- आगरा के  मूर्ति कारीगरों, शिल्पी, और मूर्ति उत्पादन कर्ता के लिए नए गाइडलाइन्स पर ट्रेनिंग करवाएं. साथ ही विभाग कच्चा माल मिलने का स्रोत और उपलब्धता की जानकारी दें.

    ३.   साथ ही विधायक -सुरक्षित पर्यावरण के क्षेत्र में काम कर रही गैर सरकारी संगठन आदि के साथ चर्चा कर पर्यावरण सुरक्षा और आगरा के  मूर्ति कारीगरों, शिल्पी, और मूर्ति उत्पादन कर्ता की रोजी रोटी प्रभावित न हो इस का उपाय खोजें.

    ४.   विधायक से आग्रह किया के हर साल की तरह आगरा प्रसासन इस साल भी मूर्ति विसर्जन के लिए कृतिम तालाब बनाये.

    ५.   प्लास्टर ऑफ़ पेरिस के नुकसान से बचने के लिए दूरगामी और प्रभावी उपाय किये जायें. क्यूँ की प्लास्टर ऑफ़ पेरिस सिर्फ मूर्ति ही नहीं और भी जगह इस्तेमाल होता है- खास कर कंस्ट्रक्शन में. बिल्डिंग के मलबे के निस्तारण पर भी स्पष्ट नीति हो. विधायक हितधारकओं से बात कर विधान सभा में दूरगामी उपायों के लिए बिल प्रस्तुत करें.

     पुरषोतम खंडेलवाल, विधायक आगरा नार्थ ने डेलीगेशन के सामने श्री यादव रीजनल ऑफिसर  आगरा, उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से बात कर जन भावनाओं से अवगत कराया और शोषण और उत्पीडन की परिस्थिति को निष्क्रिय करने को कहा. विधायक ने राठौर चेयरमैन उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को भी जन भावनाओं से अवगत करते हुए सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा के ज्ञापन की कॉपी whatsapp पर उन को भेजी. विधायक ने पुरे सहयोग का आश्वासन देते हुए आगरा के  मूर्ति कारीगरों, शिल्पी, और मूर्ति उत्पादन कर्ता को भय मुक्त हो कर अपने कार्य करने को कहा.

    आज के डेलीगेशन में शिरोमणि सिंह- अद्याक्ष सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा ; अनिल शर्मा सचिव सिविल सोसाइटी ऑफ़ आगरा और मूर्ति कारीगर – सोनपाल; विजय भान; जय श्रीराम; पूरण; श्री भगवान, ख्याली राम आदि थे.

    विजय लक्ष्मी सिंह
    एडिटर इन चीफ
    आईएनए न्यूज़ एजेंसी  

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.