Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या धर्मनगरी है , जहां पर धार्मिक पर्व चला करते हैं , वहीं पर बकरीद मुस्लिमों का भी पर्व है , जिसको लेकर जिला अधिकारी ने किया बैठक

    अयोध्या धर्मनगरी है , जहां पर धार्मिक पर्व चला करते हैं , वहीं पर  बकरीद मुस्लिमों का भी पर्व है , जिसको लेकर  जिला अधिकारी ने किया बैठक

    अयोध्या।
    कोरोना संक्रमण को देखते हुए  हिंदू मुसलमान के  पर्व मात्र खानापूरी  करके   निपटाए जा रहे हैं  । जैसा की अयोध्या में  सावन झूला मेला  चल रहा है।  जो  सावन की पूर्णिमा यानी रक्षाबंधन तक चलेगा । किंतु पर्व को  मात्र एक औपचारिक रूप से मनाया जा रहा है। अयोध्या भक्त वहीं दिखाई पड़ रही है बाहर से आने-जाने वालों पर पूरी तरह से रोक है सीमा सील की गई है ऐसे में राम भक्त और शिव भक्त अयोध्या प्रवेश नहीं कर पा रहे हैं।   वहीं पर  शिव भक्तों  द्वारा कांवर यात्रा निकालकर  जलाभिषेक का समय चल रहा है किंतु वह भी कोरोना संक्रमण के  चलते स्थगित है । अब वहीं पर मुसलमानों का बकरीद पर्व है।

    वह भी मात्र खानापूर्ति तक ही रह पाएगा । बकरीद को लेकर डीएम अनुज झा ने मुस्लिम धर्म गुरुओं के साथ की बैठक। कलेक्ट्रेट सभागार में हुई बैठक।कोरोना महामारी को लेकर घर में ही छोटे जानवरों की कुर्बानी करने की अपील। सामूहिक रूप से व सार्वजनिक स्थल पर ना करें कुर्बानी। नमाज पढ़ने संबंधी पुराने दिशानिर्देश रहेंगे लागू। सावन के अंतिम सोमवार व रक्षाबंधन के पर्व पर भी हुई चर्चा । धारा 144 व महामारी अधिनियम के तहत 5 से अधिक लोग ना हो इकट्ठा।
    इस प्रकार सभी धार्मिक पर्व इस वर्ष साधारण रूप से घरों में रहकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मास्क लगाकर खानापूर्ति करके मना लिए जाएंगे। कोई उत्सव नहीं होगा। लोगों का बटोर नहीं होगा ।भीड़ भाड़ नहीं किया जाएगा।

    देव बक्श वर्मा
    आई एन ए न्यूज़ अयोध्या - उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.