Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    आपदा के दौरान भी परिवार-नियोजन की तैयारी, सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी


    आपदा के दौरान भी परिवार-नियोजन की तैयारी, सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी


    सीतापुर।  इस साल विश्व जनसंख्या दिवस और जनसंख्या स्थिरता पखवारा नए अंदाज में मनाया जाएगा कोविड-19 के प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए इस बार रैली का आयोजन तो नहीं किया जाएगा लेकिन स्वास्थ्य विभाग इसके आयोजन में कोई कोर कसर बाकी नहीं रखना चाह रहा है , इस वर्ष विश्व जनसंख्या दिवस की थीम ऑफ द में भी "परिवार नियोजन की तैयारी सक्षम राष्ट्र और परिवार की पूरी जिम्मेदारी" है |

    इसका मुख्य उद्देश्य कोरोना महामारी में भी जनसंख्या स्तरीकरण के लिए लोगों को जागरूक करने के साथ ही परिवार नियोजन कार्यक्रम को गति प्रदान करना है, इस संबंध में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन उत्तर प्रदेश के निदेशक ने सूबे के सभी जिला अधिकारी और मुख्य चिकित्सा अधिकारी को पत्र जारी कर जरूरी दिशा निर्देश दिए हैं | 

    विश्व जनसंख्या दिवस के साथ ही 11 जुलाई को सेवा प्रदाय की जनसंख्या स्थिरता पखवारा का शुभारंभ होगा इसका समापन 31 जुलाई को होगा मिशन निदेशक ने पत्र में लिखा है कि जनसंख्या दिवस और जनसंख्या स्थिरता पखवारा का शुभारंभ सांसद, विधायक और जिला पंचायत अध्यक्ष पालिका अध्यक्ष निर्वाचित जनप्रतिनिधियों अथवा जिलाधिकारी द्वारा कराया जाए| 

    कार्यक्रम का आयोजन कोविड-19 के प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए किया जाए | पत्र में कहा गया है कि स्वास्थ्य केंद्रों पर परिवार नियोजन के सभी साधन मुफ्त मिलेंगे लाभार्थियों को बार-बार स्वास्थ्य केंद्र ना आना पड़े इसलिए उन्हें कम से कम 2 माह के लिए गर्भनिरोधक गोलियां कंडोम उपलब्ध कराया जाए, नसबंदी के लिए पहले से ही लाभार्थियों का पंजीकरण कर लिया जाए इसके साथ ही 16 से 31 जुलाई के मध्य आयोजित दस्तक अभियान के दौरान आशाओं द्वारा ग्राम भ्रमण के माध्यम से परिवार नियोजन के अस्थाई साधन कंडोम जाया एवं पोषित का निशुल्क वितरण कराया जाए |
      
    -----

    पखवारे के दौरान होंगी यह गतिविधियां

    परिवार नियोजन के स्थाई एवं अस्थाई साधनों के बारे में लाभार्थियों को परामर्श दिया जाएगा सार्वजनिक स्थानों व अस्पतालों पर परिवार नियोजन से संबंधित पोस्टर व बैनर लगाए जाएंगे वह दीवार लेखन किया जाएगा लाभार्थियों को गर्भनिरोधक इंजेक्शन अंतरा तथा प्रसव पश्चात आईयूसीडी सेवाओं को स्वीकार करने के लिए प्रेरित किया जाएगा पखवाड़े के दौरान परिवार नियोजन के बास्केट ऐप चॉइस का स्टाल लगाया जाएगा जहां पर परिवार नियोजन के स्थाई एवं अस्थाई साधनों की जानकारी तथा सही से उपयोग करने के बारे में लोगों को बताया जाएगा साथ ही कम आयु के में विवाह के दुष्परिणामों से अवगत कराया जाएगा देर से विवाह करने और विवाह के बाद पहले बच्चे का जन्म देर से तथा दो बच्चों के जन्म में अंतराल रखने के संबंध में पूर्ण जानकारी दी जाएगी |

    इस संबंध में जिम्मेदार अधिकारियों ने कुछ इस प्रकार से कहा परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अफसर और एसीएमओ डा.सुरेन्द्र शाही का कहना है कि पत्र मिल गया है पत्र के निर्देश के अनुसार आयोजन की तैयारियां शुरू हो गई हैं इसी के अनुरूप कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा।

        शरद कपूर
           सीतापुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.