Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बिसबाँ में कोरोना पॉजटिव मरीज मिलने का सिलसिला जारी, प्रशासन चिंतित, जनता बेपरवाह

    बिसबाँ में कोरोना पॉजटिव मरीज मिलने का सिलसिला जारी, प्रशासन चिंतित, जनता बेपरवाह

    सीतापुर.

    बिसबाँ नगर में जँहा पूर्व में गयी जांच रिपोर्टो में दो लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हड़कंप मचा हुआ है वंही प्रशासन ने आनन-फानन में उस क्षेत्र को सील करने की जहां तैयारी शुरू की वही नगर के अंदर पचपन घंटे के लॉकडाउन से जहां सड़कों पर सन्नाटा देखने को मिला वही नगर की गलियों में आमजन में दहशत भी देखने को मिल रही है । नगर के अंदर शासन के सारे प्रयास फेल होते दिख रहे हैं धड़ाधड़ नगर के अंदर निकल रहे कोरोना मरीजो से स्थानीय प्रशासन हकलान है ।

                   वही नगर के अंदर कोरोना वायरस प्रसार को लेकर सोशल मीडिया से लेकर आमजन में एक दूसरे को फोन कर हाल चाल लेते हुए लोगों में यह कहते हुए देखा जा रहा है कि इस लॉकडाउन की अवधि को दो सप्ताह तक और बरकरार रखा जाए। वहीं जहां दो दिन के संपूर्ण बंद के दौरान दिहाड़ी मजदूरों ठेला एवं खोमचा लगाकर सब्जी व मसाले का इंतजाम करने वाले परिवारों के चेहरों पर चिंता की लकीरें देखने को साफ मिल रही हैं । वही नगर के व ग्रामीण क्षेत्र के प्रबुद्ध जनों की माने तो निरंतर कोरोनावायरस के फैलाव को देखते हुए आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्तियों की खाने पीने की व्यवस्था करते हुए संपूर्ण लॉकडाउन की चर्चा करते हुए सुना व देखा जा रहा है । वहीं कोरोना  प्रोटोकॉल का शत प्रतिशत पालन कराने के लिए स्थानीय प्रशासन युद्ध स्तर पर लगा हुआ है । वही नगर पालिका परिषद के अधिशासी अधिकारी डॉक्टर देवेंद्र कुमार के द्वारा नगर के अंदर हॉटस्पॉट क्षेत्रों में एंटी लार्वा का छिड़काव कराया जा रहा है वही नगर की सड़कों पर लगे विद्युत पोलों पर लाउडस्पीकर बंधवा कर आम नागरिकों से निरंतर अपने घरों में ही रहकर कोरोना पर विजय के लिए लगातार संदेश भी जारी किया जा रहा है ।

    वही ग्राम खम्भापुरवा में एक पॉजिटिव केस मिलने पर खण्ड विकास अधिकारी शोभनाथ चौरसिया के निर्देश पर आठ सफाई कर्मियों की टीम ग्राम खम्भापुरवा पहुँचकर ग्राम पंचायत अधिकारी नरेन्द्र कुमार व ए डी ओ पंचायत शैलेन्द्र दीक्षित की अगुआई में पूरे क्षेत्र में साफ सफाई को कराते हुए ऐंटी लार्वा का छिड़काव कराया गया जो कि यह क्रम पूरे गांव में हफ्ते भर चलेगा जिससे संक्रमण का खतरा उत्पन्न न हो सके । यही नहीं उसके बावजूद चिंता का विषय यह भी है कि ज्यों ज्यों भेजे गए सैंपलो की रिपोर्ट प्राप्त हो रही हैं उसमें पाए जा रहे पॉजिटिव मरीजों की बढ़ती संख्या आमों खास को हैरान किए हुए हैं ।
    गौरतलब हो कि अनलॉक वन के एक माह के दौरान कोरोना प्रोटोकाल के निर्देशों का विधिवत पालन न करना भी इस संख्या को बढ़ाने में महती भूमिका निभा रहा है । वही आज भी अधिकतर लोग देखने को सहज ही मिल रहे हैं कि उनके द्वारा मास्क का प्रयोग एवं दो गज की दूरी का विधिवत पालन न किया जाना भी आग में घी डालने जैसा कार्य कर रहा है । स्वाभाविक है कि जिससे हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं ।

    शरद कपूर/आलोक अवस्थी
            सीतापुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.