Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय के भाई ने की सीबीआई जांच की मांग


    अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय के भाई ने की सीबीआई जांच की मांग


    बलिया।  बात उत्तर प्रदेश के बलिया जिले की  है जहा मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी(EO)मणि मंजरी राय की मौत या आत्म हत्या  के मामले में पुलिसिया जांच से उनके परिजन संतुष्ट नहीं हैं । उन्होंने आज जिलाधिकारी को पत्रक देकर मामले की सीबीआई जांच की मांग की है । मणि मंजरी के भाई ने पुलिस उप महानिरीक्षक पर इस मामले की जांच को लेकर एक तरफा बयान देने का आरोप लगा दिया है । अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय की मौत के मामले की सी बी आई जांच को लेकर उनके परिजनों ने दबाव बनाना शुरू कर दिया है । 

    राय के दो भाई व अन्य परिजन आज जिलाधिकारी हरि प्रताप शाही से मिले । उन्होंने मुख्यमंत्री को सम्बोधित एक पत्रक उन्हें सौंपा तथा मामले की सी बी आई जांच की मांग की । उन्होंने पत्र में पुलिस की क्रिया प्रणाली पर सवाल उठाते हुए कहा है कि पुलिस ने उनके दिये गये शिकायत पर उचित धारा में मुकदमा तक दर्ज नही किया है । उन्होंने कहा है कि शिकायत के अनुसार भारतीय दंड विधान की धारा 420 , 467 , 468 , 471 व 120 बी का अपराध भी प्रथम दृष्टया बनता है , लेकिन पुलिस ने केवल भारतीय दण्ड विधान की धारा 306 के अंतर्गत ही मुकदमा दर्ज किया है । मुकदमे की विवेचना निष्पक्ष तरीके से नही की जा रही है । 

    आरोपियों को व्यक्तिगत व राजनैतिक लाभ पहुंचाया जा रहा है तथा भविष्य में भी बलिया पुलिस से निष्पक्ष विवेचना की उम्मीद नही है । आरोपी काफी प्रभावशाली हैं तो उनको राजनैतिक संरक्षण प्राप्त है । बलिया पुलिस आरोपियों से प्रभावित है।

    V/0 -मामले की सीबीआई जांच न्यायसंगत होगा । विजया नन्द राय ने पत्र में लिखा है कि शासन से धनराशि प्राप्त करने के लिए उनकी बहन का फर्जी हस्ताक्षर बनाकर पत्र भेजा गया है । उन्होंने मुख्यमंत्री से सी बी आई जांच की संस्तुति हेतु यह प्रतिवेदन प्रस्तुत किया है । जिलाधिकारी से मिलने के बाद विजया नन्द राय ने आरोप लगाया कि पुलिस केस को कमजोर करने की दिशा में काम कर रही है । 

    उन्होंने पुलिस उप महानिरीक्षक सुभाष चंद्र दूबे पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने इस मामले को समझे व देखे बगैर एक तरफा बयान मीडिया को दिया है । इस मौके पर पूर्व मंत्री नारद राय ने पुलिसिया जांच को लेकर सवाल उठाया तथा कहा कि पुलिस मामले की लीपापोती करने का प्रयास कर रही है । उन्होंने पुलिस उप महानिरीक्षक सुभाष चंद्र दूबे के आज मीडिया में दिये गए बयान की निंदा की तथा मांग की कि पुलिस उप महानिरीक्षक सुभाष चंद्र दूबे बयान को लेकर माफी मांगे ।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.