Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    विशेष सर्विलांस से लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर लड़ी जाएगी कोरोना-जंग

    विशेष सर्विलांस से लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर लड़ी जाएगी कोरोना-जंग

    सीतापुर.
    कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए आगामी 5 जुलाई से जिले भर में विशेष सर्विलांस अभियान शुरू होने जा रहा है, इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग ने टीमों का गठन कर अपनी तैयारी पूरी कर ली है| कोरोना की रोकथाम के लिए पल्स पोलियो की तर्ज पर या अभियान 10 दिनों तक चलेगा, इस दौरान कोरोना के साथ गंभीर बीमारियों का भी विशेष ख्याल रखा जाएगा |
           इस संबंध में पूरी जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आलोक वर्मा ने एक विशेष बातचीत में बताया कि कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए आगामी 5 जुलाई से 15 जुलाई के बीच युद्ध स्तर पर एक विशेष सर्विलांस अभियान चलाया जाएगा | संक्रमण में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए जिले में घर-घर जाकर संवेदीकरण करने के साथ-साथ कंटेनमेंट जोन में सजगता के साथ अभियान चलाया जाएगा जबकि अन्य क्षेत्रों में रोगियों का घर घर जाकर चिन्हीकरण कर जांच कराई जाएगी |

    सर्वेक्षण में गर्भवती महिलाओं 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के व्यक्तियों  उच्च रक्तचाप मधुमेह कैंसर  ग्रसित रोगियों को सूचिबद्वि कर विशेष ध्यान रखा जाएगा ताकि इस वर्ग में कोबिट का प्रकोप कम से कम हो | सीएमओ ने कहा कि टीम के सदस्यों को किसी घर में रोगी मिलता है तो उनकी पल्स ऑक्सीमीटर से जांच तत्काल की जाएगी |
    एसीएमओ डॉ पी के सिंह ने इस संबंध में बताया कि हर ग्राम पंचायत के लिए एक एक टीम का गठन किया जा चुका है | प्रत्येक टीम में 2 सदस्य होंगे यह टीम हर घर पहुंच कर वहां रह रहे लोगों के स्वास्थ्य का परीक्षण करेगी | गांव की तर्ज पर शहरी इलाकों में भी को वैलेंटाइन कर्मचारी के रूप में तैनात किए जाएंगे | कंटेनमेंट जोन में या पूरा सर्विलांस उसी तर्ज पर किया जाएगा जिस तरह पोलियो अभियान में कर्मचारी घर-घर जाकर दवा पिलाते हैं | सर्विलांस के लिए बनी योजना के तहत जिले की रैपिड रिस्पांस टीम के मरीज की सूचना मिलते ही उसकी पूरी जांच कराई जाएगी, जांच रिपोर्ट आने के बाद मरीज को तुरंत  हॉस्पिटल में भेजा जाएगा | इसके बाद सर्विलांस अधिकारी की मदद से कोरोना पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आए लोगों की कंटेनमेंट की जाएगी , ऐसे लोगों को फौरन फौरन क्वारंटीन करते हुए इनकी भी कोरोना जांच कराई जाएगी उन्होंने बताया कि डब्ल्यूएचओ और यूनिसेफ द्वारा माइक्रोप्लान अनुश्रवण एवं रिपोर्टिंग के लिए प्रत्येक स्तर पर तकनीकी सहयोग प्रदान किया जाएगा| टीमों का गठन कर उन्हें प्रशिक्षण दिया जा चुका है कार्यक्रम के नोडल नोडल अधिकारी डॉ सुरेंद्र सिंह ने बताया कि इस अभियान के तहत 2 सदस्ययी करीब 1572 टीमों का गठन किया गया है , इस टीम में करीब 868000 घरों में रहने वाले 100000 लोगों को कवर करेंगे | टीम में एएनएम आशा बहू आंगनबाड़ी और एनजीओ के प्रतिनिधियों को शामिल किया गया है प्रत्येक 5 टीमों पर एक सुपरवाइजर की तैनाती की गई है |
    जिले में कोरोना से जंग लड़ रहे  अधिकारियों ने कहा कि इस तरह से युद्ध स्तर पर लड़ाई लड़ने पर बहुत जल्द कोरोना पर विजय प्राप्त करने में सफलता निश्चित रूप से मिलेगी |

     शरद कपूर
    आई एन ए न्यूज़ सीतापुर  - उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.