Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर पहुंची एफएसएल टीम ने किया नरसंहार का नाट्य रूपांतरण, जल्द हो सकता है बड़ा खुलासा

    कानपुर पहुंची एफएसएल टीम ने किया नरसंहार का नाट्य रूपांतरण, जल्द हो सकता है बड़ा खुलासा

    कानपुर.
    विकास दुबे द्वारा किये गए पुलिस नरसंहार मामले में लगातार जांच की कड़ियाँ बढ़ती जा रहीं हैं,,, जिसके चलते लखनऊ से आई एफएसएल की टीम ने उस नरसंहार का नाट्य रूपांतरण किया. जिसे 2 बटे तीन जुलाई की रात विकास दुबे और उसके साथियों ने अंजाम दिया था और अंत 8 पुलिस वालों की मौत से होकर आज सवालों के कटघरे में पड़ा हुआ है. कुछ इसी की जांच करने आई एसएफएल की टीम बिकरु गाँव पहुंची और उसी स्थान पर क्राइम सीन को अंजाम दिया गया.

    जहां आठ पुलिस वाले मौत के घाट उतार दिया था. टीम के अधिकारियों ने यहां तक रिएकरेशन करके वारदात को दोहराया जैसे पुलिस वाले मौत के बाद तड़पकर मौत की नींद सो गए थे.

    *********

    पुलिस हत्याकांड में जेसीबी ड्राइवर ने किया बड़ा खुलासा - विकास दुबे ने गोली चलाने के बाद इस्तेमाल किया था कोडवर्ड

    कानपुर.
     विकास दुबे कांड को लेकर जेसीबी लगाकर पुलिस वालों को रोकने वाला रहस्य खुल चुका है. जिसमें चौबेपुर पुलिस ने जेसीबी के ड्राइवर राहुल पाल को हिरासत में लिया है. जहां पुलिस पूछताछ कर रही है.

    गिरफ्तार किए गए जेसीबी चालक राहुल पाल ने बताया कि हत्याकांड के बाद मारे गए प्रेम प्रकाश ने उसे 2 जुलाई की शाम को बुलाया था और बुलाकर जेसीबी रोड में खड़ी करने का दवाब विकास दुबे ने बनाया था. जिसके बाद विकास दुबे के कहने पर उसे छत पर बन्द कर दिया गया था. जिसके कुछ देर बाद गोलियां चलना शुरू हो गया थी. जो करीबन 15 मिनट तक लगातार चलती रहीं. इसी के साथ राहुल ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि गोलियां चलाने के बाद विकास दुबे ने कहा था कि बन काट. जिसे सुनते ही गोली चलाने वाले सभी साथी खामोश हो गए थे और कुछ देर बाद सभी फरार हो गए. राहुल ने यह भी खुलासा किया है कि उस रात गोली चलाने में विकास दुबे के साथ कौन कौन शामिल थे.


    आईएनए न्यूज़, कानपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.