Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या- श्री राम मंदिर निर्माण के लिए आधारशिला एवं भूमि पूजन पीएम मोदी के हाथों कराने के लिए भेजा गया पत्र , प्रयास तेज

    अयोध्या- श्री राम मंदिर निर्माण के लिए आधारशिला एवं  भूमि पूजन पीएम मोदी के हाथों कराने के लिए भेजा गया पत्र , प्रयास तेज

    अयोध्या।
    मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की पावन नगरी अयोध्या  में श्री राम जन्मभूमि पर राम मंदिर निर्माण के लिए सावन माह में ही भूमि पूजन एवं आधारशिला के साथ मंदिर निर्माण का कार्य शुरू  कराने के प्रयास किए जा रहे हैं।  भूमि पूजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भेज दिया गया है । सावन का महीना रामनगरी के लिए बहुत शुभ है और इस दौरान माना जा रहा है कि भूमि पूजन प्रधानमंत्री के हाथ हो जाने से मंदिर बनने की शुरुआत हो जाएगी। जिसको लेकर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने पीएम नरेंद्र मोदी को आमंत्रण पत्र भेजा है।

       वहीं दूसरी तरफ रामजन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण की तैयारियों को लेकर L&T कंपनी के और 11 अधिकारी अयोध्या पहुंच चुके हैं। अयोध्या में बहुप्रतीक्षित श्री राम मंदिर निर्माण को लेकर होने वाले भूमि पूजन की तारीखों का इंतजार का दौर अब मानो खत्म होने जा रहा है ।
     करोड़ों राम भक्तों के सदियों से चली आ रही इंतजार का दौर अब शीघ्र ही समाप्त हो जाएगा । राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निमंत्रण भेजा गया है। ऐसी उम्मीदें लगाई जा रही है कि सावन मास में ही राम मंदिर निर्माण की आधारशिला देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों रखी जाएगी। तारीख का ऐलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को करना है।
           श्री राम मंदिर निर्माण के भूमि पूजन को लेकर  राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव श्री चंपत राय राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के पास पहुंचे और यहां से नरेंद्र मोदी को भूमि पूजन में आमंत्रित करने के लिए पत्र लेकर रवाना हुए हैं ।

    राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास की मानें तो 5 अगस्त तक श्रावण मास है इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण की आधारशिला रख सकते हैं। जिसके लिए उन्हें ट्रस्ट के अध्यक्ष के द्वारा एक निमंत्रण निवेदन पत्र भेजा गया है। साथ ही  देश की स्थिति को समझते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया गया है कि वीडियो कांफ्रेंसिंग से भी भूमि पूजन में भाग ले सकते हैं। वहीं दूसरी तरफ राम मंदिर निर्माण की तैयारी तेज कर दी गई है। कार्यशाला में रखे पत्रों की साफ सफाई के लिए दिल्ली की KLA कंपनी के 2 दर्जन से अधिक वर्कर लगाए गए हैं ।राम जन्मभूमि परिसर में L&T कंपनी के 11 नए अधिकारी भी पहुंच चुके हैं। जो मृदा परीक्षण के साथ निर्माण की तैयारी में जुटे हुए हैं। ऐसे में अब राम भक्तों के इंतजार की वह घड़ी पूरी होने वाली है । कि जल्द ही राम मंदिर निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा । क्योंकि देश की सर्वोच्च न्यायालय का फैसला आने के बाद जो बाधा थी वह समाप्त हो गई । उसके बाद भी जो बातें थी वह भी सब निपट गई है। अब कोई व्यवधान नहीं है ।लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते और उसके बाद चीन से विवाद होने के कारण, राम मंदिर निर्माण की आधारशिला एवं भूमि पूजन में विलंब हुआ है। जिसके लिए अब समय अनुकूल होते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों आधारशिला रखी जा सकती है और यदि प्रधानमंत्री के सामने कोई दिक्कत हो तो इस दौरान वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से भी भूमि पूजन और आधारशिला का कार्य कर सकते हैं।

    देव बक्श वर्मा
    आई एन ए न्यूज़ अयोध्या - उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.