Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अधिवक्ता ने मंडलायुक्त लखनऊ मण्डल को पत्र भेजकर तहसीलदार महोली की कार्यशैली पर व्यक्त की चिंता

    अधिवक्ता ने मंडलायुक्त लखनऊ मण्डल को पत्र भेजकर तहसीलदार महोली की कार्यशैली पर व्यक्त की चिंता

    तहसीलदार महोली खुलेआम कोविड-19 नियमों की उड़ा रहे हैं धज्जियां

    सीतापुर.
    सेवानिवृत्ति के नजदीक आ चुके जिले की महोली तहसील क्षेत्र के तहसीलदार की कार्यशैली से महोली के अधिवक्ताओं में भय का वातावरण व्याप्त है, तहसीलदार की हठधर्मिता के चलते अधिवक्तागण अपनी जान जोखिम में डालकर न्यायिक प्रक्रिया पूरी करने के लिए मजबूर हैं, कोविड-19 नियमों के विपरीत यह तहसीलदार प्रतिदिन अपने कक्ष में बैठकर वादों का निपटारा मनमाने तरीके से कर रहे हैं, इनके न्यायिक कक्ष में सोशल डिस्टेंटिग से लेकर कोविड-19 के किसी भी नियमों का पालन नहीं किया जाना आम बात हो गई है |

                 तहसीलदार महोली की कार्यशैली से क्षुब्ध वरिष्ठ अधिवक्ता आलोक श्रीवास्तव ने आयुक्त ( कमिश्नर)  लखनऊ मण्डल लखनऊ को एक पत्र भेजकर तहसीलदार महोली अभिमन्यु वर्मा की कार्यप्रणाली की विस्तार से अपनी बातें कहते हुए तहसीलदार महोली द्वारा कोविड-19 नियमों का पालन कराए जाने की मांग की गई है | प्रेषित पत्र में कहा गया है कि महोली तहसील क्षेत्र के तहसीलदार अभिमन्यु वर्मा द्वारा खुलेआम कोविड-19 नियमों को दरकिनार किया जा रहा है | पत्र में यह भी कहा गया है कि तहसीलदार अभिमन्यु वर्मा की सेवानिवृत्ति की तिथि 31 जुलाई 2020 है, जिसके चलते यह प्रतिदिन कोविड-19 नियमों के विरुद्ध अपने न्यायालय कक्ष में वादियों का जमावाड़ा लगाए रहते हैं, साथ ही यह दूषित मानसिकता के चलते अपने अधिकारों का दुरूपयोग करते हुए पक्षपात पूर्ण फैसले कर रहे हैं | जबकि शासन द्वारा स्पष्ट आदेश है कि लॉक डाउन के उपरांत 22 जून 2020 से न्यायालय खुलने पर उपजिलाधिकारी एवं तहसीलदार के कोर्ट अलग-अलग दिन संचालित किए जाएंगे, जिससे न्यायालय परिसर व कक्ष में कम से कम भीड़ एकत्र हो सके | साथ ही यह भी शासनादेश है कि न्यायिक प्रक्रिया के दौरान सोशल डिस्टेंटिग के साथ ही सभी कोविड-19 प्रोटोकॉल नियमों का पूरी कड़ाई से पालन किया जाना चाहिए | परन्तु तहसीलदार महोली सारे नियम कानूनों को दरकिनार करते हुए प्रतिदिन अपने कक्ष में बैठकर वादों का निपटारा मनमाने ढंग से कर रहे हैं, परिणामस्वरूप इनके कक्ष में वादियों व वकीलों की अनावश्यक भीड़ लग जाने से कोविड-19 नियमों का पालन नहीं हो पा रहा है | जिसके चलते क्षेत्र में कोरोना वायरस संक्रमण फैलने का खतरा हर समय मंडरा रहा है | पत्र के अंत में कहा गया है कि तहसीलदार महोली की कार्यप्रणाली से महोली तहसील के अधिवक्तागण काफी भयभीत हैं | पत्र के माध्यम से मांग की गई है कि तहसीलदार महोली द्वारा कोविड-19 नियमों का अनुसरण कराया जाये |

             शरद कपूर
               सीतापुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.