Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    धर्मनगरी में अधर्म क्यों? विस्फोटक पदार्थ खाने से गोवंश घायल

    धर्मनगरी में अधर्म क्यों? विस्फोटक पदार्थ खाने से गोवंश घायल

    अयोध्या।
    अयोध्या भगवान श्रीराम की पावन नगरी है। पावन नगरी में अधर्म हो, यह बात सही नहीं है । रामनगरी अयोध्या में भी इंसानियत शर्मसार हुई है। जहां बेजुबान जानवर को पेट की भूख  मिटाना भारी  पड़ा। भूख मिटाने के लिए विस्फोटक पदार्थ खाने से सांड का जबड़ा उड़ गया है। जिसके बाद घायल सांड तालाब में खड़े होकर अपने आखरी सांसो का इंतजार कर रहा  था। हालांकि ग्रामीणों की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

    बताया जाता है कि अयोध्या जनपद के थाना महाराजगंज क्षेत्र के दतौली गांव की जहां विस्फोटक पदार्थ खाने से सांड का आधा जबडा उड़ गया, जिससे वह बुरी तरह घायल हो गया और अब गांव किनारे तालाब और आसपास अपनी जिंदगी के आखिर दिन गिन रहा है.
     जानकारी के अनुसार भारत देश गांव का देश है ,जहां मुख्य व्यवसाय खेती है। खेती किसानी पर आम लोगों का खानपान निर्भर करता है। किसान अपनी फसल को भारी लागत लगाकर तैयार करता है । और जब लहराती फसल को साड,  नीलगाय, बड़ेल, जंगली सूअर या अन्य आवारा पशु उस में घुसकर फसलों को तहस-नहस कर देते हैं। खाते कम है नुकसान ज्यादा करते हैं। इसके लिए किसान अपने फसलों को बचाने के लिए बल्ली के सहारे तार से चारों तरफ से गिरता है। जिसमें काफी लागत लगती है । उसके बाद भी जंगली जानवर सूअर   साड घुसकर फसलों को बर्बाद कर देते हैं। वहीं पर कुछ किसान ऐसे हैं जो अपनी फसल को बचाने के लिए मानवता को तार-तार कर देते हैं। और विस्फोटक या जहरीले पदार्थ को आटे में रखकर जानवरों को देकर मारने का भी काम करते हैं ।

    ऐसे ही मामला प्रकाश में आया है। एक सांड अपनी भूख मिटाने बेजुबान जानवर को क्या पता भूख मिटाने की कोशिश में उसके साथ बेरहमी घटा घाट होगी। दरसल कुछ लोगो के द्वारा जानवरों को भगाने मारने के लिए तरह-तरह की हथकंडा अपना रहे हैं जिसके तहत गांव के पास कुछ लोग जंगली जानवर को मारने के लिए सुतरी बम बनाकर चारों तरफ रखा था। जानवर हरे घास को खाते हुए विस्फोटक पदार्थ भी खा लिया जोकि मुंह में ही फट गया, जिससे वह पूरी तरह घायल हो गया और जबड़ा उड़ गया, इसकी  सूचना कुछ लोगों ने पुलिस को दी। गोवंश के साथ हुई इस घटना को देखते हुए पुलिस ने मामले को दर्ज करते हुए छानबीन शुरू कर दी है। लेकिन  इस घायल गोवंश का इलाज नहीं हो सका है और वह एक तालाब के किनारे अपने अंतिम दिन गिन रहा है।
    इस मामले को लेकर क्षेत्राधिकारी वीरेंद्र विक्रम ने बताया कि ने कहा कि ग्रामीणों की सूचना पर मुकदमा दर्ज करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. इनके पास से  सुतली के बम बरामद किए गए हैं.

    देव बक्श वर्मा
    आई एन ए न्यूज़ अयोध्या - उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.