Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    स्थानीय दरगाह कलंदरिया में तीन दिवसीय सैय्यद मकबूल अनवर शाह क़लन्दर का 62 वां उर्स बक़रीद की 5 तारीख से

    स्थानीय दरगाह कलंदरिया में तीन दिवसीय सैय्यद मकबूल अनवर शाह क़लन्दर  का 62 वां उर्स बक़रीद की 5 तारीख से

    खैराबाद, सीतापुर।
    स्थानीय दरगाह कलंदरिया में  स्थिति मज़ार सैय्यद हबीब अनवर क़लन्दर अलैहिर्रहमा एवम सुप्रसिद्ध सूफी बुज़ुर्ग सैय्यद मक़बूल अनवर क़लन्दर का तीन दिवसीय वार्षिक उर्स प्रत्येक वर्ष बकरीद की 5 से प्रारम्भ होता है और 7 को समाप्त हो जाता है जिसमे बकरीद माह की 5 को सैय्यद हबीब अनवर क़लन्दर की शब और 6को क़ुल होता है तथा 6 की शाम को सैय्यद शाह मक़बूल अनवर क़लन्दर की शब और 7को क़ुल शरीफ इसके पश्चात ख़ानक़ाह में फातेहा होता है परंतु इस बार कोविड 19 की वजह से हबीब अनवर क़लन्दर का 242 वां तथा मक़बूल मियां का62 वां तीन दिवसीय उर्स कल से प्रारम्भ हो रहा है जिसका समापन बक़रीद की 7को हो जाएगा परन्तु कोरोना महामारी और लॉक डाउन तथा सोशल डिस्टेंसिग का पालन करने के कारण उर्स का कोई भी कार्यक्रम इस वर्ष दरगाह शरीफ पर नही होगा । केवल 6 एवं 7को ख़ानक़ाह में फातेहा का आयोजन किया जाएगा जिसमे भी घर के ही केवल 7 लोग  शिरकत करेंगे , सज्जादानशीन सैय्यद तरीक़ अनवर शाह क़लन्दर " उर्फ तरीक़ मियां "ने विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी से बचने एवं कोविड 19 से बचाव के लिए सरकार द्वारा लगाए गए लॉक डाउन और सोशल डिस्टेंस का पालन करने के कारण कोई भी बाहरी व्यक्ति, श्रद्धालु एवं मुरीद उर्स में आने का कष्ट न करें।

     सज्जादानशीन सैय्यद तरीक़ अनवर शाह क़लन्दर  ने कस्बे के लोगो से तथा अन्य ख़ानक़ाहों के जिम्मेदारों से एव अपने सिलसिले के तमाम मुरीदों से अपील करते हुए कहा कि इस बार अपने अपने घरों में ही नज़र नियाज़ कराएं उर्स में शिरकत के लिए न आएं घर मे रहे और सुरक्षित रहें तथा कोविड 19 से बचाव के लिए कार्य करें एवं शासन प्रशासन के कार्यों में सहयोग करें,इसी से हम सब सुरक्षित रह सकते हैं।

            शरद कपूर/ काजिम हुसैन

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.