Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या जनपद में बढे कोरोना पॉजिटिव केस, अब तक का सबसे बड़ा कोरोना विस्फोट, निकले 42 पॉजिटिव

    अयोध्या जनपद में बढे कोरोना पॉजिटिव केस, अब तक का सबसे बड़ा कोरोना विस्फोट, निकले 42 पॉजिटिव

    अयोध्या।
    अयोध्या जनपद में कोरोना  के केस बढ़ गए हैं। आम चर्चा है कि  जब तक कोरोना केस कम थे,  सतर्कता प्रशासन द्वारा बहुत तगड़ी बरती जा रही थी। किंतु अब धीरे-धीरे  कोरोना के केस जब बढ़ रहे हैं  तो सतर्कता भी कम हो गई है।  छूट भी मिल रही है। सड़कों पर फर्राटे भर रहे हैं वाहन। शहर बाजार में  भीड़ बढ़ रही है। बाजारे खुल रही है । यद्यपि  पुलिस और प्रशासन द्वारा  मास्क  ना लगाने वालों के विरुद्ध  कार्यवाही किया जा रहा है। फिर भी लोग मान नहीं रहे हैं। और बड़ी संख्या में लोग बिना मास्क  के घूम रहे हैं।  जिसका परिणाम यह है कि कोरोना के केस बढ़ते जा रहे हैं ।अब तक का सबसे बड़ा कोरोना विस्फोट हुआ। एक दिन में अब तक के सर्वाधिक 42 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। एक साथ इतने कोरोना संक्रमित निकलने से स्वास्थ्य विभाग के साथ ही जिला प्रशासन की भी नींद उड़ गई है।
           यश पेपर मिल के 11 और लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जबकि यश पेपर मिल में दस लोग पहले ही संक्रमित पाए जा चुके हैं। नगर निगम क्षेत्र के गुदड़ी बाजार व पाराखान के एक-एक व्यक्ति को कोरोना संक्रमित पाया गया है।

          इसके साथ ही बीकापुर ब्लॉक के महावीर तिवारी का पुरवा व सीताराम तिवारी का पुरवा, कोछा, नसीरपुर मूसी, मसौधा के टोनिया, मयाबाजार के रामपुर पुवारी,  तारुन के आगागंज, रुदौली के हरिहरपुर, नई पोखरा, व धमौरा, हरिग्टनगंज ब्लॉक के पलिया लोहानी, रामपुर जोहन, अछौरा व सोहावल के मजनावा के एक-एक व्यक्ति को कोरोना संक्रमित पाया गया है। वहीं अमानीगंज के डूडी में तीन व मसौधा के पलिया शाहबदी में दो लोगों को कोरोना संक्रमित पाया गया है। रुदौली के पकड़िया गांव में दो लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। सोहावल के लखौरी के पांच लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। तारुन ब्लॉक के परसावा के दो लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद जिले में सक्रिय केस की संख्या फिर से शतक पार पहुंच गई है।

    अब जिले में सक्रिय केस की संख्या 113 हो गई है, जबकि कुल कोरोना संक्रमितों की तादाद 380 पहुंच गई है।  आठ लोगों ने कोरोना से जंग जीती है। इससे पहले एक्टिव केस की संख्या में धीरे-धीरे कमी आने से स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन भी राहत महसूस करने लगा था, लेकिन  एक साथ 42 लोगों को कोरोना पॉजिटिव आने से चिकित्सकों व अधिकारियों के साथ आम लोगों की भी चिता बढ़ गई है। कोरोना संक्रमितों के क्षेत्रों को कंटेंमेंट जोन घोषित कर दिया गया है और संक्रमितों के संपर्क में आने वालों का ब्यौरा जुटाया जा रहा है। यद्यपि करोना के केस जब बिल्कुल नहीं थे ,तो काफी सतर्कता बरती जा रही थी। अब धीरे-धीरे संख्या जब बढ रही है, तो   छूट भी दिया जा रहा है।  सड़कों पर वाहन फर्राटा भर रहे हैं ।

    शहर वा बाजार हाथ में भीड़ देखी जा रही है। लोग अब सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कम कर रहे हैं। प्रशासन रोजाना बड़ी संख्या में मास्क  ना लगाने वालों के विरुद्ध कार्रवाई कर रही है। चालान काट रही है , फिर भी बहुतेरे लोग ऐसे हैं जो दो पहिया वाहन पर तीन तीन लोग बैठकर यात्रा कर रहे हैं । और तमाम लोग ऐसे हैं जो लापरवाही मास्क  लगाने में कर रहे हैं। यह अपने जिंदगी की बात है मात्र पुलिस के डर की वजह से नहीं । सभी लोगों को नसीहत लेना चाहिए कि अपने जान माल की सुरक्षा के लिए बिना मास्क के बाहर ना निकले। सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन करें। दो पहिया वाहन वाले बिना हेलमेट के ना निकले।

    देव बक्श वर्मा
    आई एन ए न्यूज़ अयोध्या - उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.