Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    किडनैपिंग के बाद पान व्यवसायी के पुत्र मासूम बलराम की हत्या

    किडनैपिंग के बाद पान व्यवसायी के पुत्र मासूम बलराम की हत्या

    गोरखपुर।
    जनपद के पिपराइच थाना क्षेत्र में एक परचून कारोबारी के 14 साल के बेटे की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई। सोमवार शाम केवटिया टोला के पास से पुलिस ने नाले में बोरे में भरकर फेंकी गई लाश को बरामद किया है।

    इस मामले में एक अभियुक्त दयानंद राजभर को हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की गई तो उसने अपना जुर्म कबूल किया है। इस घटना में तीन-चार और लोग भी शामिल हैं। जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है। किडनेपर्स ने एक करोड़ रुपए फिरौती मांगी थी।

    एसएसपी गोरखपुर डॉ.सुनील गुप्ता ने बताया कि अभियुक्त दयानंद राजभर जंगल चक्रधारी का रहने वाला है। इस घटना में प्रयुक्त मोबाइल और कुछ सिम बरामद किए गए हैं। फर्जी सिम जारी करने के आरोप में रिंकू गुप्ता और निकेश को पुलिस ने हिरासत में लिया है। दयानंद ने रविवार शाम पांच बजे ही बच्चे को मार दिया था। उससे पूछताछ जारी है।

    यहां जंगल छत्रधारी गांव में मिश्रौलिया टोला निवासी महाजन गुप्त घर में ही किराने की दुकान चलाते हैं। साथ ही जमीन के कारोबार से भी जुड़े हैं। उनका बेटा बलराम रविवार दोपहर करीब 12 बजे खाना खाने के बाद दोस्तों के साथ खेलने निकला और घर नहीं लौटा। करीब तीन घंटे के बाद तीन बजे महाजन गुप्त के मोबाइल पर एक फोन आया।

    दूसरी तरफ से बोलने वाले ने बताया कि बलराम का अपहरण का लिया गया है। उसे छुड़ाने के लिए एक करोड़ रुपए का इंतजाम कर लो। रकम कब और कहां पहुंचानी है, इस बारे में बताया जाएगा। महाजन ने उस नंबर पर दोबारा फोन किया तो वह स्विच ऑफ मिला।

    महाजन को अपने बेटे के अपहरण की बात पर भरोसा नहीं हुआ। उन्होंने बेटे की गांव में तलाश की। लेकिन, कुछ पता नहीं चला। इसके बाद शाम पांच बजे पुलिस को सूचना दी गई।

    अमित कुमार सिंह
    INA News गोरखपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.