Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या -पीएम मोदी 05 अगस्त को कर सकते हैं राम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन

    अयोध्या -पीएम मोदी 05 अगस्त को कर सकते हैं राम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन

    अयोध्या।
    अयोध्या में  मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम के जन्म स्थल पर  राम मंदिर बनने का सपना  अब पूरा होने वाला है।  जिसके लिए तैयारियां तेजी से चल रही है।  5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि पूजन कर सकते हैं।  लंबे इन्तजार के बाद 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  अयोध्या  राम मंदिर  के लिए भूमि पूजन कर सकते हैं. ये पहली बार होगा जब प्रधान मंत्री बनने के बाद मोदी अयोध्या पहुंचेंगे।  कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री करीब तीन घंटे अयोध्या में गुजारेंगे.। इसके साथ ही वे  रामलला का  दर्शन करेंगे.। हालांकि कोरोना संकट की वजह से प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर तैयारियों के लिए जिला प्रशासन के पास वक्त भी बहुत कम है.। जैसे ही पीएमओ की तरफ से कार्यक्रम आएगा, सभी तैयारियां शुरू कर दी जाएंगी. इस संबंध में बैठकों का दौर लगातार चल रहा है । सर्किट हाउस में दो बार बैठक हो चुकी है। ट्रस्ट की तरफ से भी बैठक हुई है।

      श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र  ट्रस्ट  लगातार इस प्रयास में है  की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कर कमलों द्वारा  राम मंदिर निर्माण का पूजन एवं शिलान्यास  हो और उसके   उपरांत मंदिर निर्माण कार्य तेज गति से  शुरू हो जाए ।
     बताया जा रहा है कि उसी क्रम में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की तरफ से भेजी गई दो तारीखों 3 और 5 अगस्त में से पीएम कार्यालय ने संभवत एक तय कर दी है।. ताजा जानकारी के मुताबिक 5 अगस्त को पीएम मोदी अयोध्या में शिलान्यास व भूमि पूजन कार्यक्रम में शिरकत कर सकते हैं ।. ट्रस्ट की तरफ से मिल रही जानकारी के मुताबिक भूमि पूजन का कार्यक्रम सुबह  होगा.। प्रधानमंत्री 11 बजे से एक बजे तक इस कार्यक्रम  मैं रह सकते हैं।

    वैसे तो सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बीजेपी और राम मंदिर से जुड़े आरएसएस व विहिप शिलान्यास के कार्यक्रम को भव्य तरीके से मनाने की तैयारी में थी. लेकिन कोरोना संकट की वजह से इस पर ग्रहण लगा है. ट्रस्ट के सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार   सीमित लोगों को कार्यक्रम में शामिल होने के लिए निमंत्रण भेजा जा सकता है. गृह मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई कैबिनेट मंत्री, कई राज्यों के राज्यपाल व राम मंदिर आन्दोलन से जुड़े बीजेपी व आरएसएस के कार्यकर्ता शामिल हो सकते हैं।.

    देव बक्स वर्मा
    अयोध्या

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.