Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पलवल- गायों के शवों को रखकर लोगों ने लगाया जाम


    पलवल- गायों के शवों को रखकर लोगों ने लगाया जाम 


    पलवल।  पलवल में होडल नुहुँ सड़क मार्ग पर ग्रामीणों ने गायों के शवों को रोड पर रखकर लगाया जाम। बीती रात को एक ट्रक यु पी की तरफ से मेवात की तरफ जा रहा था और नुहुँ पुलिस द्वारा ट्रक के आगे लोहे का काँटा डाला गया जिस वजह से ट्रक पंचर हो गया और यह नहर में जा गिरा लेकिन पुलिस आरोपियों को तो पकड़कर ले गई लेकिन गाय पानी में दम घुटने की वजह से 6 गायों की मौत हो गई और 11 गाय घायल हो गई। 

    गुस्साए ग्रामीणों ने यह जाम लगा दिया और जाम की सुचना मिलने के बाद भारी पुलिस बल मोके पर पहुंचा और लोगों को समझा बुझाकर लगभग 3  घंटे बाद जाम को खुलवाया। ग्रामीणों ने आरोपियों के साथ साथ नुहुँ पुलिस के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है। गाँव के जेलदार अरुण चौधरी ने कहा की जो सरकार गायों को लेकर बड़ी बड़ी बात करती है लेकिन होता कुछ नहीं है और उन्होंने कहा की सरकार की शासन छोड़ देना चाहिए।

    पलवल-होडल नुहुँ सड़क मार्ग पर गाँव सोंध के समीप गौंछी नहर में गायों से भरा ट्रक गिर गया । इस ट्रक  में लगभग 17  गाय भरी हुई थी जिसमे से 6  गायों की मौके पर ही मौत हो गई और 11  घायल गंभीर रूप से घायल हो गई। यह हादसा उस समय हुआ जब गायों से भरा एक ट्रक  गायों को काटने के लिए यु पी के आगरा की तरफ से मेवात में जा रहा था। लेकिन इस ट्रक  का पीछा नहीं  पुलिस कर रही थी। 

    पुलिस ने ट्रक के आगे कांटा लगा  दिया जिस वजह से ट्रक के टायर फट गए और यह ट्रक नहर में गिर गया। लेकिन पुलिस नहर से आरोपियों को तो निकाल कर अपने साथ ले गई लेकिन पुलिस ने गायों को बाहर निकालने का कर्तव्य नहीं समझा और पुलिस की लापरवाही की वजह से 6  गायों की मौत हो गई क्यों कि गायों के हाथपैर बंधे होने की वजह से यह गाएं बाहर नहीं निकाल पाई और पानी में दम घुटने की वजह से इनकी मौत हो गई। इसी को लेकर गुसाए ग्रामीणों ने होडल नुहुँ सड़क मार्ग पर जाम लगा दिया। जाम की सुचना पुलिस को लगी तो  भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। लोगों ने यह जाम गायों को लेकर लगाया लोगों ने नुहुँ पुलिस के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है।

    पुलिस ने मौके पर पहुँच कर नहर से गायों को बाहर निकाल कर गायों के शवों को पोस्ट मार्टम के लिए वेटनरी अस्पताल में भेज दिया है और घायल गायों को गोशाला  में भेज दिया है जहाँ पर घायल गायों का इलाज सुरु कर दिया है। डी एस पी बलवीर सिंह ने बताया की ग्रामीणों की मांग है की जो नुहुँ पुलिस जो तस्करों को अपने साथ ले गई है उनको मुड़कती थाना में लाकर उनके खिलाफ मामला दर्ज मुड़कती थाने में किया जाए। उन्होंने बताया की ग्रामीणों की यह बात मान ली गई है और ग्रामीणों ने यह जाम खोल दिया है।

    जाम के समय मौके पर मौजूद गाँव सोंध के अरुण जेलदार और 52 पालों के प्रधान  ने कहा की आज जो इन 6 गायों की मौत हुई है यह पुलिस की लापरवाही की वजह से हुई है क्यों की पुलिस आरोपियों को तो अपने साथ पकड़कर ले गई लेकिन पुलिस ने अपना गायों को बचाने का कर्तव्य नहीं समझा क्यों की गौतस्करों ने ट्रक के अंदर गायों के पैर बांध रखे थे और नहर में पानी भरा हुआ था जिस वजह से गाय पानी से बाहर नहीं निकल  पाई और पानी में दम घुटने की वजह से गायों की मौत हो गई। 

    जेलदार ने कहा की सरकार गायों को लेकर बड़ी बड़ी बाते करती हैं लेकिन करती कुछ नहीं है उन्होंने कहा की सरकार को कुछ नहीं करना तो सरकार शासन छोड़ दे। उन्होंने कहा की जो गाएं  बचाई जा रही है यह गौभगतों की वजह से बचाई जा रही है इसमें सरकार का कोई सहयोग नहीं है और आए दिन गायों की हत्याएं की जा रही हैं।

    पलवल से ऋषि भारद्वाज की रिपोर्ट 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.