Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जून के तीसरे सप्ताह में आ रहा है मानसून, भीषण गर्मी से मिल सकती है राहत


    जून के तीसरे सप्ताह में आ रहा है  मानसून, भीषण गर्मी से मिल सकती है राहत 


    अयोध्या।  वर्तमान समय में भीषण गर्मी का प्रकोप चल रहा है  लू थपेड़े चल रहे हैं  तेज धूप  मैं बाहर निकलना मुश्किल हो रहा है।  जिसके कारण खेती किसानी करना भी  कठिन लग रहा है।  राहगीर भी  सुबह शाम ही चल रहे हैं।  लोग पानी के लिए  त्राहि-त्राहि कर रहे हैं।  एक तरफ तालाब को जलाशय  सुख रहे हैं  वहीं दूसरी तरफ नहर में पानी का भाव  बना हुआ है।  ऐसे में  लोग प्रकृति और ईश्वर पर  निर्भर होते दिखाई पड़ रहे हैं।  आस लगाए बैठे हैं  कि आखिर बरसात कब होगी।  वैज्ञानिकों के अनुसार  20 जून के बाद कभी भी  मानसून आ सकता है  और बरसात हो सकती है । जून का तीसरा सप्ताह  आमजन के लिए  काफी हितकर होगा । मानसूनी बारिश  में भीगने के लिए अब थोडा से   इंतजार बाकी रह गया है. । सब कुछ ठीक  रहा तो 20 जून के बाद मानसूनी बौछारें  यूपी पहुंच जाएंगी.। मौसम विभाग  के अभी तक के अनुमान के मुताबिक मानसून की चाल सामान्य है और तय समय पर ही इसके यूपी पहुंचने की संभावना है.।

    बताया जाता हैकि अरब सागर से चले दक्षिण पश्चिम मानसून के 20 जून के बाद यूपी में पहुंचने की उम्मीद मौसम विभाग  के अनुसार मानसून पूर्वी उत्तर प्रदेश के जिलों में दाखिल होगा।.  यूपी मेंदाखिलहोनेवाला मानसून चंदौली, बनारस, गाजीपुर,आजमगढ़, गोरखपुर के रास्ते तराई के जिलों में पहुंचेगा.  मानसूनी सिस्टम अन्तिम जून के आसपास पश्चिमी यूपी के जिलों को तर करेगा. 

    इस बीच बंगाल की खाड़ी में बन रहे एक चक्रवातीय माहौल से 20 जून से  पूर्वांचल के जिलों में थोड़ी ज्यादा बरसात देखने को मिल सकती है. हालांकि अभी बंगाल की खाड़ी में बन रहे चक्रवातीय माहौल का सटीक विश्लेषण एक दो दिनों बाद ही सामने आएगा.  इस पर निर्भर करेगा कि यूपी में इसकी वजह से 20 जून से पहले ही बारिश शुरू हो सकती है या नहीं. या फिर कितनी मात्रा में बारिश होगी.

     मानसून के समय पर पहुंचने से खेती के लिए भी बहुत फायदा होगा. धान के बीज लगा दिए गए हैं जो एक हफ्ते में रोपाई के लिए तैयार हो जाएंगे. ऐसे में जून के आखिरी हफ्ते में झूमकर बारिश हुई तो धान की रोपाई भी सही तरीके से हो सकेगी और बढ़िया फसल होने की संभावना भी बढ़ जाएगी.।

    यह सही है कि वर्तमान समय में भीषण गर्मी पड़ रही है लोग गर्मी से व्याकुल है आने जाने में बाधा हो रही है कृषि कार्य बाधित हो रही है लोग पेड़ की छाया और ठंडे जल की आस लगाए रहते हैं किंतु बहुतेरे इलाके ऐसे हैं जहां पर कुएं सूख गए हैं हैंडपंप पानी देना बंद कर दिया है लोगों को पानी पीने के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है वहीं जलाशय में जल ना होने से जानवरों को परेशानी हो रही है किंतु इंद्र देवता की कृपा से आशा है कि शीघ्र ही समस्या से निजात मिल जाएगी। 

         देव बक्स वर्मा 
    अयोध्या उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.