Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कोरोना जंग में सरकारी नियमों पर भारी पड़ रहा राजनीतिक दल


    कोरोना जंग में सरकारी नियमों पर भारी पड़ रहा राजनीतिक दल


    पलवल।  कोरोना जंग में सरकारी नियमो की पालना पर राजनैतिक दखल भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। ऐसा ही कुछ मामला जिला प्रशासन द्वारा कंटेनमेंट जॉन घोषित जवाहर नगर कैंप के बाजार में देखने को मिला। यंहा बाजार के प्रधान की अगुवाई में दुकानदार पहले तो जिला उपायुक्त से दुकानों के खुलने की गुहार लेकर पहुंचे, जंहा सुनाई न होने पर दुकानदार पलवल विधायक दीपक मंगला की शरण में पहुंचे और प्रधान के निर्देशों पर बाजार को बिना प्रशासन की अनुमति से खोल दिया। 

    पलवल के जवाहर नगर में राजनैतिक दखल के चलते बाजार के दुकानदारों ने जिला प्रशासन के नियमों की अवहेलना करते हुए बाजार की दुकानों को खोल दिया। आपको बता दे कोरोना मामलो को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा जवाहर कैंप को कंटेनमेंट जॉन में शामिल किए जाने के बावजूद बुधवार की सुबह दुकानदारों ने बिना कोई जिला प्रशासन की लिखित सुचना के अपनी दुकानों को खोल लिया। जब इसकी सुचना कैंप थाना प्रभारी यादराम मिली। तो वह अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और दुकानदारों से अपनी दुकानों को बंद करने के लिए कहा। इस दौरान कुछ दुकानदारों ने कहा उन्हें दुकानों को खोलने के पलवल विधायक दीपक मंगला ने कहा है और विधायक की इस बारे में जिला उपायुक्त नरेश नरवाल से बात भी हो चुकी है। जिस पर कैंप थाना प्रभारी यादराम ने दुकानदारों से इस बारे में जिला प्रशासन द्वारा दुकानों को खोलने के लिखित आदेश दिखाने को कहा। जिस पर दुकानदारों ने कहा कि उनके पास जिला प्रशासन के कोई लिखित आदेश नहीं है। इस दौरान मार्किट के प्रधान आशू राजपाल ने विधायक दीपक मंगला से कैंप थाना प्रभारी यादराम की फोन पर बात करवाई । कैंप थाना प्रभारी यादराम ने फोन पर बात करते हुए विधायक दीपक मंगला से दो टूक शब्दो में यह कह दिया किया। उनके पास कैंप में दुकानों को खोलने के जिला प्रशासन द्वारा कोई आदेश नहीं आए है। इसके बारे में वो ड्यूटी मजिस्ट्रेट नरेंदर से बात करते है। जिसके बाद थाना प्रभारी ने मौके पर ड्यूटी मजिस्ट्रेट को सारे मामले की जानकारी दी। 

    ड्यूटी मजिस्ट्रेट द्वारा आदेश मिलने पर कैंप थाना प्रभारी ने दुकानदारों से अपनी दुकाने को खोलने के लिए कहा। कैंप थाना प्रभारी यादराम ने सभी दुकानदारों से अपील करते हुए कहा कि सभी सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखते हुए अपनी दुकानों को खोले और अगर कोई भी ग्राहक उनकी दुकान पर बिना मास्क लगाए आता है। तो वह उस ग्राहक को सामान ना दे और दुकान पर आने वाले सभी ग्राहकों के हाथ सैनेटाइजर से साफ़ करवाए जाए तथा वह भी कोरोना जैसी महामारी को ध्यान में रखते हुए अपनी दुकानों पर मास्क लगाकर ही बैठे। हालाँकि बाद में प्रशासन द्वारा बाजार बंद करवाए जाने की बात भी सामने आई है। जिससे कि साफ़ जाहिर होता है कि कोरोना जंग में सरकारी नियमो की पालना पर राजनैतिक दखल भारी पड़ता दिखाई दे रहा है।

    पलवल से ऋषि भारद्वाज की रिपोर्ट 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.