Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अम्बेडकरनगर के इस थानेदार ने नाबालिग को मार दी गोली, परिजनों ने पुलिस पर लगाये गम्भीर आरोप


    अम्बेडकरनगर के इस थानेदार ने नाबालिग को मार दी गोली, परिजनों ने पुलिस पर लगाये गम्भीर आरोप


    अम्बेडकरनगर के थाना जहांगीरगंज के थानेदार द्वारा सिर्फ शक के आधार पर एक नाबालिग को गोली मारे जाने की घटना सामने आई है।

    पता चला है कि आज़मगढ़ के अतरौलिया स्थित भगतपुर गांव निवासी हर्ष सिंह पुत्र परमहंस सिंह उम्र 17 वर्ष को विगत 3 जून को थाना- जहांगीरगंज, अम्बेडकरनगर की पुलिस सुबह 7 बजे के करीब शक के आधार पर उसके घर से उठाकर ले गयी। उसी दिन शाम को थाना जहांगीरगंज के इंस्पेक्टर विजय प्रताप तिवारी ने फर्जी मुठभेड़ दिखाते हुए नाबालिग हर्ष सिंह के पैर में गोली मार दी। बाद में गंभीर रूप से घायल नाबालिग हर्ष सिंह को पुलिस ने दो दिन तक अस्पताल में रखने के बाद कल दिनांक 5 जून को चालान करके उसे जेल भी भेज दिया।

     नाबालिग के पिता
    हर्ष सिंह के पिता ने जहांगीरगंज पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस अम्बेडकरनगर में ट्रक से हुई किसी 26000/- रुपये की लूट के मामले में उनके निर्दोष बेटे को जबरदस्ती फंसाने के लिए डरा धमकाकर उसका गलत बयान दर्ज करा रही है। उन्होंने जहांगीरगंज पुलिस पर गम्भीर आरोप लगाते हुए कहा कि जहांगीरगंज थानेदार द्वारा मेरे नाबालिग बेटे को फर्जी केस में फंसाकर जान से मारने की कोशिश की गई है। उन्होंने इस घटना की उच्चस्तरीय जांच की मांग भी की है।

    आज करणी सेना भारत के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री वीरू सिंह ने हर्ष सिंह के गांव जाकर उनके परिजनों से मुलाकात की और घटना की पूरी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि 17 साल के एक पढ़ने वाले बच्चे को पुलिस एक बड़े अपराधी की तरह एनकाउंटर कर रही है और झूठे लूट के केस में फंसा रही है, जबकि दर्जनों मर्डर करने वाले कुख्यात अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं। उन्होनें यह भी कहा कि पुलिस की इसी कार्यशैली के कारण भोले भाले नौजवान अपराधी बनते हैं। 

    वीरू सिंह ने जहांगीरगंज पुलिस की ज्यादती के खिलाफ आंदोलन करने की भी चेतावनी दी है। उन्होंने एसएसपी अम्बेडकरनगर से जहांगीरगंज के थानाध्यक्ष विजय प्रताप तिवारी को तत्काल निलंबित करने और घटना की जॉच कराने की मांग भी की है। वीरू सिंह ने चेतवानी देते हुए कहा है कि यदि नाबालिग निर्दोष हर्ष सिंह को झूठे केस में फंसाया गया तो वे और उनका संगठन चुप नहीं बैठेंगे।

    संजय राजपूत
    रीजनल एडिटर गोरखपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.