Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    भारत-चीन की झड़प में जवानों के शहीद होने पर चाइना के खिलाफ किया गया प्रदर्शन


    भारत-चीन की झड़प में जवानों के शहीद होने पर चाइना के खिलाफ किया गया प्रदर्शन


    पलवल।  गलवान घाटी में भारत-चीन के बीच हुई हिंसक झड़प में शहीद हुए 20 सैनिकों के विरोध में जवाहर नगर कैंप व्यापार मंडल द्वारा प्रदर्शन किया गया। जवाहर नगर कैंप मार्केट में आयोजित प्रदर्शन की अध्यक्षता मार्केट प्रधान आसू राजपाल ने की। इस अवसर पर दुकानदारों ने चीन के प्रधानमंत्री का पुतला व चीनी सामान को जलाते हुए जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शन के दौरान सभी दुकानदारों ने चीनी सामान का बहिष्कार करने की शपथ ली।

    पलवल, कैंप व्यापार मंडल के प्रधान आसू राजपाल ने कहा कि लददाख की गलवान घाटी में बातचीत के दौरान चीनी सैनिकों ने भारतीय सैनिकों पर धोखे से हमला कर दिया। हमले में भारत के 20 सैनिक शहीद हो गए। इस घटना का समस्त व्यापार मंडल निंदा करता है तथा व्यापारियों में इससे भारी रोष है। उन्होंने कहा कि चीन सरकार के साथ हुए समझौते के बावजूद भी वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। भारत सरकार को इसका मुंह तोड़ जबाब देना चाहिए। उन्होंने बताया कि चीन का सबक सिखाने के लिए उनके सामान का बहिष्कार करना अब जरूरी हो गया है। इसलिए सभी दुकानदारों ने चीनी सामान न बेचने का निर्णय लिया है। 

    कोई भी दुकानदार दिल्ली से चीनी निर्मित सामान न तो खरीदेगा और न ही उसे ग्राहकों को बेचा जाएगा। दुकानदार डीपी अरोड़ा ने कहा कि भारत सरकार से चीनी से सभी व्यापारिक समझौते समाप्त कर देने चाहिए। सरकार को चीन में किसी भी पद पर कार्य कर रहे भारतीयों को वापस बुला लेना चाहिए तथा उन्हें अपने देश में रोजगार उपलब्ध कराना चाहिए। उन्होंने कहा कि उनकी संस्था जिले के सभी दुकानदारों के पास जाकर चीनी निर्मित सामान न बेचने का आवाहन करेगी। 

    पलवल से ऋषि भारद्वाज की रिपोर्ट

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.