Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    ओडीवन के फैसले पर भडक़े आढ़ती व मासाखोर


    ओडीवन के फैसले पर भडक़े आढ़ती व मासाखोर


    (सडक़ों पर सब्जियां फैंक दिया धरना,किया प्रदर्शन, जमकर की नारेबाजी,सोशल डिसटेंसिंग की भी की अवेहलना)

    (प्रशासन के ओडीवन के फैसले को बताया अनुचित कहा: सभी का हो रहा है नुकसान,इसलिए सडक़ों पर फेंकी सब्जियां)

    झज्जर।  सब्जी मंडी के कुछ आढ़तियों के पिछले दिनों कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद मंडी के कई दिनों तक बंद रखने व बाद में प्रशासन द्वारा मंडी खोलने के लिए ओडीवन फार्मूला लागू करने को लेकर सोमवार को मंडी के आढ़तियों व फुटकर विक्रेताओं का गुस्सा फूट पड़ा  और उन्होंने झज्जर में सब्जी मंडी के बाहर सडक़ पर अपनी सब्जियां फेंक कर अपनी नाराजगी जताई। इस दौरान मंडी आढ़तियों ने शासन व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और मंडी के बाहर धरना भी दिया। मामले की सूचना मिलने के बाद प्रशासन ने मौके पर एसडीएम शिखा व पुलिस बल को भेजा। जिन्होंने आढ़तियों व मांसाखोरों को समझाने का प्रयास भी किया,लेकिन वह अपनी जिद्द पर अड़े रहे। हैरत की बात तो यह है कि अधिकारियों व पुलिस की मौजूदगी में आढ़तियों व मांसाखोरों ने जमकर सोशल डिसटेंसिंग की धज्जियां उड़ाई। जिस बारे में प्रशासनिक अधिकारियों ने कैमरे के सामने कुछ भी बोलने से इन्कार कर दिया। आढ़तियों व इन मांसाखोरों का कहना था कि वह पिछले लंबे समय से प्रशासन द्वारा नए-नए नियम थोपने के चलते काफी नुकसान झेल चुके है। मंडी में आने वाले किसान व यहां काम  करने वाले आढ़तियों और मांसाखोरों के यहां सब्जियां खराब हो रही है। उलटा प्रशासन ने अब यहां पर ओडीवन का फार्मूला लागू कर दिया है।

    जिसका किसी भी सूरत में पालन करना मुश्किल ही नहीं बल्कि नामुमकिन है। अब जबकि सभी के लिए नुकसान सहना उनके बूते से बाहर हो चुका है तो इसी सूरत में अब नाराजगी जाहिर करने के लिए ही सब्जियां सडक़ों पर फैंक कर आक्रोष जताया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि जब तक प्रशासन अपने ओडीवन के फैसले को वापिस नहीं ले लेता तब तक उनका आक्रोष यूं ही जारी रहेगा।  

    राहुल चौहान

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.