Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कोरोना महामारी के समय अपनी ड्यूटी न करने वालों पर तत्काल कार्यवाही के निर्देश


    कोरोना महामारी के समय अपनी ड्यूटी न करने वालों पर तत्काल कार्यवाही के निर्देश


    ग़ाज़ीपुर।  कोविड-19 महामारी में डॉक्टर,पुलिसकर्मी और सफाई कर्मी को कोरोना योद्धा बतलाया गया। लेकिन आज भी ऐसे डॉक्टर हैं जो अपने कर्तव्य को भूल कर इस कोरोना काल में भी ड्यूटी करने से इंकार कर दिया। जिसकी पोल आज मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने मंडला आयुक्त वाराणसी के सामने खोल कर रख दिया। जिस पर मंडलायुक्त ने तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए।

    कोविड-19 महामारी के बीच शासन के निर्देश पर मंडला आयुक्त वाराणसी दीपक अग्रवाल आज जिला अस्पताल का निरीक्षण किया इस दौरान उन्होंने जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड और कोरोना वार्ड सहित कई वार्डों का निरीक्षण किया इस दौरान उन्होंने मरीजों को दी जाने वाली सुविधाएं के बारे में बड़े ही बारीकी से जानकारी लिया साथ ही उन्होंने कोरोना मरीज के  लिए जिला अस्पताल में लगे चार वेंटीलेटर का भी भौतिक सत्यापन किया कि अगर करोना का कोई मरीज आ जाए और उसे वेंटिलेटर की जरूरत हो तो उसे कैसे ऑपरेट किया जाएगा। इसके पश्चात उन्होंने ट्रू नॉट मशीन के बारे में भी जानकारी लिया और बताया कि इस मशीन के स्टाल हो जाने के बाद कोरोना मरीजों के रिजल्ट की जानकारी घंटे के अंदर मिल जाएगी।

    मंडलायुक्त के द्वारा निरीक्षण करने के दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ जीसी मौर्य ने अपने ही विभाग की पोल खोल कर रख दिया और उन्होंने बताया कि कोरोना काल में जिला अस्पताल में किसी भी सर्जन की नियुक्ति नहीं है जिसकी वजह से कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। और एक आर्थो सर्जन की नियुक्ति थी लेकिन उन्होंने कोरोना का हवाला देकर ड्यूटी करने से इंकार कर दिया है। जिसको मंडलायुक्त ने संज्ञान लेते हुए ऐसे डॉक्टर के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.