Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    राम नगरी का ऐतिहासिक और पौराणिक महत्व बताने के लिए तैनात होंगे गाइड, तैयारियां शुरू

    राम नगरी  का ऐतिहासिक और पौराणिक महत्व बताने के लिए तैनात होंगे गाइड,  तैयारियां शुरू 

    अयोध्या।
    मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की पावन नगरी में एक तरफ जहां  राम मंदिर बनने  का कार्य तेज पकड़ रहा है। वहीं दूसरी तरफ अयोध्या नगरी के विकास की भी प्रक्रिया तेजी से चल रही है  । घाटों का सुंदरीकरण, मार्गों का शुद्धीकरण तथा अयोध्या को विश्व के पटल पर लाने के लिए मुख्यमंत्री योगी जी  का प्रयास रंग ला रहा है। आने वाले दिनों में अयोध्या धार्मिक पर्यटक नगरी के साथ-साथ विश्व के नक्शे पर चमकती हुई नजर आएगी। जहां पर दुनिया भर के लोग भगवान राम के दर्शन करने आएंगे । ऐसे में अयोध्या नगरी में दर्शन कराने के लिए, मंदिरों का परिचय कराने के लिए, साधु संतों के दर्शन कराने के लिए, गाइड की जरूरत होगी जिसके लिए तैयारियां चल रही है। अयोध्या में मंदिर निर्माण के साथ विभिन्न जगहों से आने वाले पर्यटकों की परेशानी को दूर करने के लिए और रामनगरी का ऐतिहासिक और पौराणिक महत्व बताने के लिए प्रशिक्षित गाइड तैनात करने की तैयारी हो रही है। हाल ही में इसे लेकर अयोध्या नगर-निगम और अवध विश्वविद्यालय के बीच एक समझौता ज्ञापन पत्र  पर हस्ताक्षर  किया गया है। इसके अंतर्गत आगामी 6 माह में नगर-निगम, गाइड मुहैया कराएगा।
    गाइड के अलावा पर्यटकों के लिए बस से सिटी टूर की व्यवस्था भी की जानी है।

    नगर आयुक्त डॉ. नीरज शुक्ला ने बताया, ‘गाइड प्रशिक्षण के लिए एक शिफ्ट में 50-50 बच्चों के बैच चलाएंगे। इसमें तमिल, गुजराती, मलयालम, साउथ कोरियन भाषाओं के अलावा अन्य कई भाषाएं सिखाई जाएंगी।
    अयोध्या के जितने भी पौराणिक और ऐतिहासिक महत्व हैं, उसके बारे में भी गाइड को प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिससे पर्यटकों को किसी प्रकार की परेशानी न हो।’
    उन्होंने बताया कि गाइड की व्यवस्था के अलावा सिटी टूर भी रखा है, जिसे बस से करवाया जाएगा।

    देव बक्श वर्मा
    आई एन ए न्यूज़ अयोध्या - उत्तर प्रदेश

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.